पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बचपन में ऐसी दिखती थीं माधुरी दीक्षित, तब से अब तक के चुनिंदा PHOTOS

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मुंबई। माधुरी दीक्षित 50 साल की हो गई हैं। 15 मई 1967 को मुंबई में जन्मी माधुरी दीक्षित ने 1984 में राजश्री प्रोडक्शन की फिल्म 'अबोध' से बॉलीवुड डेब्यू किया था। 90's की लीडिंग लेडी माधुरी ने 17 अक्टूबर, 1999 को लॉस एंजिलस, कैलिफोर्निया के कार्डियोवस्कुलर सर्जन श्रीराम माधव नेने से शादी की। बता दें कि माधुरी दीक्षित और श्रीराम नेने दो बेटों रयान और अरिन के पेरेंट्स हैं। 
 

बड़े और छोटे पर्दे पर करीब 30 सालों से एक्टिव माधुरी शंकर दीक्षित ने जब मुंबई यूनिवर्सिटी से माइक्रोबायोलॉजी की पढ़ाई पूरी की तो उन्होंने सोचा भी नहीं था कि एक दिन एक्ट्रेस बनेंगी। हालांकि कथक की यह ट्रेंड डांसर ज्यादा दिनों तक सिल्वर स्क्रीन से दूर न रह पाईं। 1984 में फिल्म अबोध से लेकर 2014 तक 'डेढ़ इश्किया' और 'गुलाब गैंग' तक माधुरी का सफर बेहद दिलचस्प रहा।

'अबोध' के बाद माधुरी की कुछ फिल्में रहीं फ्लॉप...
1984 में आई माधुरी की पहली फिल्म 'अबोध' कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाई। माधुरी के काम को भी नोटिस नहीं किया गया। इसके बाद इन्होंने 'आवारा बाप' और 'स्वाति' जैसी फ्लॉप फिल्मों में काम किया। आखिर एक दिन शोमैन सुभाष घई की नजर उन पर पड़ी और उन्होंने अपनी फिल्म 'कर्मा' में एक डांस सीक्वल के लिए माधुरी को चुना। हालांकि, यह सीक्वल फिल्म में रखा नहीं गया पर घई ने माधुरी से वादा किया कि वो अपनी दूसरी फिल्मों में उन्हें जरूर कोई दमदार रोल देंगे।

...जब सुभाष घई ने रख दी शर्त
दरअसल, सुभाष चाहते थे कि माधुरी छोटे-मोटे रोल्स करने वाली हीरोइन की इमेज न बनाएं। माधुरी ने उनकी बात मान ली और सुभाष ने उन्हें 'उत्तर-दक्षिण' में कास्ट कर लिया। वैसे, इस फिल्म से भी माधुरी को कोई खास सफलता नहीं मिली पर सुभाष ने उनके भीतर के कलाकार को परख लिया। बाद में सुभाष घई ने माधुरी को 'राम-लखन' में री-लॉन्च किया। हालांकि इसके पहले फिल्म 'तेजाब' रिलीज हो गई, जिसमें माधुरी के डांस 'डिंग डांग डिंग' ने सबको दीवाना बना दिया और इस तरह वे बॉलीवुड की टॉप एक्ट्रेसेज में शामिल हो गईं। 'तेजाब' ने गोल्डन जुबली मनाई और यह साल 1988 की सबसे बड़ी हिट फिल्म साबित हुई। इसके बाद तो माधुरी की सक्सेस का सफर थमा ही नहीं।

'दिल' ने दिलाया पहला फिल्मफेयर अवॉर्ड
साल 1990 में माधुरी आमिर खान के साथ फिल्म 'दिल' में नजर आईं। इस मूवी ने उन्हें करियर का पहला 'फिल्मफेयर अवार्ड' दिलाया। इसके साथ ही डायरेक्टर इंद्र कुमार के साथ उनका काफी मजबूत प्रोफेशनल रिलेशन बन गया। इसके बाद वे इंद्र कुमार की दो फिल्मों- 'बेटा' और 'राजा' में नजर आईं। इन मूवीज ने भी बॉक्स ऑफिस पर अच्छा बिजनेस किया। 90 के दशक के दौरान माधुरी ने हर साल एक हिट फिल्म दी। इनमें 'साजन', 'बेटा', 'खलनायक', 'हम आपके हैं कौन' और 'राजा' खास तौर पर याद की जाती हैं।

करियर में आया उतार-चढ़ाव
1996 में आई फिल्म 'प्रेम ग्रंथ' फ्लॉप हो गई पर क्रिटिक्स ने माधुरी के काम की सराहना की। इसके बाद उनकी कई फिल्में फ्लॉप रहीं। उनके काम को भी नापसंद किया जाने लगा। हालांकि, फिर 1997 में शाहरुख खान के साथ माधुरी 'दिल तो पागल है' में नजर आईं और फिर से बॉलीवुड पर छा गईं। फिल्म तो ब्लॉकबस्टर साबित हुई ही, माधुरी बेस्ट एक्ट्रेस का फिल्मफेयर अवार्ड जीतने में भी कामयाब रहीं। इसी साल वे प्रकाश झा की फिल्म 'मृत्युदंड' में भी दिखीं। इस मूवी ने उन्हें सीरियस एक्ट्रेस के रूप में स्थापित किया। अपनी संजीदा एक्टिंग के लिए उन्हें 'स्टार स्क्रीन' और 'सैन्सुई' अवार्ड्स मिले। माधुरी की अगली फिल्म थी 'पुकार' जो साल 2000 में आई। इसके लिए एक बार फिर उन्हें बेस्ट एक्ट्रेस का अवॉर्ड मिला। यह सम्मान उन्हें इंटरनेशनल इंडियन फिल्म एकेडमी (आईफा) ने दिया।
 
आगे की स्लाइड्स पर देखें, माधुरी दीक्षित के बचपन से अब तक के कुछ और PHOTOS...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में हैं। आपकी मेहनत और आत्मविश्वास की वजह से सफलता आपके नजदीक रहेगी। सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा तथा आपका उदारवादी रुख आपके लिए सम्मान दायक रहेगा। कोई बड़ा निवेश भी करने के लिए...

और पढ़ें