पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जुल्म से नफरत करने वाले इस महापुरुष ने जब उड़ी दी अग्रेंजों की नींद

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

कुछ ऐसे थे आजादी के दीवाने आजाद!

भारत का इतिहास गवाह है कि यहां कई महापुरुष हुए, जिन्‍होंने देश के लिये अपनी जान की जरा भी परवाह नहीं की। उन्‍हीं में से एक हैं चंद्रशेखर आज़ाद, जिन्‍होंने भारतीय स्‍वतंत्रता संग्राम में राम प्रसाद बिस्मिल और सरदार भगत सिंह के साथ अंग्रेजों की नींद हराम कर दी थी। आज 27 फरवरी के ही दिन इलाहाबाद के अल्फ्रेड पार्क में गोलीबारी के बीच उन्होंने अपने प्राण न्योछावर कर दिए। उस वक्त वह अपने मित्र सुखदेव राज से मिलने गए थे।

इस दौरान सीआईडी का एसएसपी नॉट बाबर भारी पुलिस बल के साथ वहां पहुंचा था और पार्क को चारो ओर से घेर लिया, लेकिन शहीद होने से पहले आजाद कभी अंग्रेजों के हाथ नहीं लगे। इसके लिए उन्होंने कई बार अपना रूप भी बदला। आइए, उनके जीवन के कुछ अनछुए पलों को आपके साथ बांटते हैं।