• Hindi News
  • Entertainment
  • सोनू को डिफेंड करते हुए आलिम ने कहा कि……

सोनू को डिफेंड करते हुए आलिम ने कहा कि……

Dec 12, 2021, 11:59 AM IST
सोनू को डिफेंड करते हुए आलिम ने कहा कि……
बाॅलीवुड़ डेस्क। बाॅलीवुड़ सिंगर सोनू निगम अजान में लाउडस्पीकर के उपयोग पर उठे सवालों को लेकर विवादों में चल रहे हैं। इन विवादों का मुख्य कारण पश्चिम बंगाल के एक मौलवी के बयान के कारण सोनू ने अपना सिर मुंडवा लिया। मौलवी ने एलान किया था कि जो भी सोनू का मुंडन करेगा उसको मेरी तरफ से 10 लाख का ईनाम होगा। फिर क्या सोनू ने अपने ही घर पर हेयर स्टाइलिस्ट आलिम हकीम द्वारा ही मुंडन करवा लिया इसके बाद आलिम चैनल्स पर अपने दस लाख के ईनाम को लेकर क्लेम किया। तो इस पर मौलवी ने कहा कि मैनें ऐसा कोई एलान ही नही किया। लेकिन सवाल ये हैं कि सोनू ने आलिम को ही क्यों चुना...? आपको बतां दें कि आलिम बॉलीवुड के सेलेब्रिटी हेयर स्टाइलिस्ट हैं। इनसे रणबीर कपूर, संजय दत्त, अर्जुन कपूर, वरुण धवन, ऋतिक रोशन और रणवीर सिंह जैसे स्टार्स अपने हेयर स्टाइल करवाते है। फिर जाहिर सी बात हैं कि ट्विटर पर इनके 25.5 हजार फॉलोअर्स है। इनके इंस्टाग्राम पर उनके 26.9 हजार फॉलोअर्स हैं। इंस्टाग्राम पर आलिम सचिन तेंदुलकर, अनिल कपूर, संजय दत्त, अर्जुन कपूर, आदित्य रॉय कपूर, शाहिद कपूर और वरुण धवन जैसे सितारों के साथ नजर आते हैं। खास बात तो यह हैं कि इनके ट्विटर अकाउंट का पॉलिटिक्स से कोई रिश्ता नहीं हैं। आलिम के अनुसार उनके पिता हाकिम कैरानवी इंडिया के पहले ऐसे हेयर स्टाइलिस्ट थे, जो सेलेब्रिटीज के बाल संवारते थे। उनकी क्लाएंट लिस्ट में बिग बी, दिलीप साहब, सुनील दत्त और विनोद खन्ना जैसे सितारे थे। आलिम 16 साल की उम्र से ही पिता के पेशे में आ गए थे। पहले उनका बिजनेस सिर्फ मुंबई में था, लेकिन अब यह हैदराबाद, बेंगलुरु और दुबई तक फैल चुका है। बाल कटवाने के बाद सोनू और आलिम दोनों मीडिया से रूबरू हुये और आलिम सोनू को मजबूती से डिफेंड करते हुए कहा, ‘किसी के गंजा होने पर इनाम देने की बात समझ से परे है, अगर मौलवी को 10 लाख रुपए देने ही हैं, तो वह मुझे दें, मैं इन्हें किसी अनाथ आश्रम में दान कर दूंगा, इससे अच्छा इन पैसों का सबसे सही इस्तेमाल होगा। ‘सोनू ने सिर्फ धार्मिक स्थानों पर लाउडस्पीकर के इस्तेमाल पर सवाल उठाया था, जिनसे लोगों को परेशानी होती है। वह किसी धर्म की बात नहीं कर रहे थे। उन्हें अपनी इंसानियत की वजह से ही शोहरत मिली है और ऐसी सफलता को आप नकार नहीं सकते। ‘सोनू के अधिकतर दोस्त मुस्लिम हैं हम हिंदू, मुस्लिम, सिख और ईसाई की बातें नहीं करते हैं, इंसानियत ही सब कुछ है। इसी इंसानियत से तो मैंने अपने बच्चे का सरनेम नहीं रखा। जब वो बड़ा हो जायेगा उस दिन खुद ही डिसाइड कर लेगा कि वो अपने मम्मी या पापा में से किसका सरनेम यूज करना चाहता हैं ये उसकी पर्सनल लाईफ हैं। मुझे नहीं लगता कि सोनू खूद किसी हिन्दू और मुस्लिम में अन्तर करते हैं। सोनू सभी धर्मो में विश्वास रखने वाले इंसान है। जानिए झाडू को क्यों लोगों की नजरों से छुपाकर रखा जाता है?

महादेव के अंगूठे के नीचे बना प्राकृतिक गड्डा जो कभी नहीं भरता

अगर शर्तें पूरी करेंगे तब ही सोनू निगम को मिलेगा 10 लाख का इनाम
X
सोनू को डिफेंड करते हुए आलिम ने कहा कि……

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना