... तो बच सकती थी निश्चल और वेदांत की जान / ... तो बच सकती थी निश्चल और वेदांत की जान

दोनों ने तेज गति से भागती हुई एंडेवर की स्पीड बताने के लिए आरपीएम का वीडियो बनाकर अपने दोस्तों को भेजा।

dainikbhaskar.com

Aug 01, 2017, 12:43 PM IST
शनिवार देर रात फूल स्पीड में कार एक पेड़ से टकराई। शनिवार देर रात फूल स्पीड में कार एक पेड़ से टकराई।
अहमदाबाद। वस्त्रापुर में शनिवार की देर रात हुई कार दुर्घटना में कार के फीचर्स की जांच के बाद फोर्ड कंपनी के टेक्निकल अधिकारी ने कहा कि मृतक वेदांत और निश्चल जैन ने यदि सीट बेल्ट बांधा होता, तो एयरबेग से दोनों की जान बच सकती थी। उल्लेखनीय है कि यहां की जानी-मानी तेल उत्पादक कंपनी एन के प्रोटिंस के डायरेक्टर के बेटे निश्चल की कल कार दुर्घटना में मौत हो गई थी। एयरबेग को लेकर किया खुलासा…
टेक्निकल अधिकारी ने बताया कि कार लेने के बाद अधिकांश लोग कार के फीचर्स से अनजान होते हैं। कई बार जानबूझकर वे नियमों का उल्लंघन भी करते हैं। ऐसी लापरवाही के बाद भी दुर्घटना में एयरबेग नहीं खुलता। कार चलाते समय सीट बेल्ट बांधना अनिवार्य है। उस समय मॉडल में सीटबेल्ट के साथ ही एयरबेग की कनेक्टिविटी होती है। बेल्ट बंधा होता, तो एयरबेग खुल जाता और वे दोनों बच जाते।
दोनों ने कार की स्पीड का वीडियो दोस्तों को भेजा
दोनों ने तेज गति से भागती हुई एंडेवर की स्पीड बताने के लिए आरपीएम का वीडियो बनाकर अपने दोस्तों को भेजा। एन के प्रोटींस के डायरेक्टर ने हाल ही में घर बदला था और उनका पालतू डॉगी उस्मानपुरा वाले घर में होने से वेदांत डॉगी के लिए उस्मानपुरा में ही रुक गया था। वेदांत, निश्चल समेत चार दोस्त पहले स्विफ्ट लेकर निकले, फिर टू व्हीलर लेकर निकले और आगे चलकर एंडेवर कार लेकर स्पीड के मजे लेने के लिए निकले।
कार 4 पलटी खाने के बाद 32 कदम तक घिसटी
कार इतनी अधिक स्पीड में थी कि पेड़ से टकराने के बाद 4 पलटी खाई, फिर एक मकान के बाहर पानी के कुंड से टकराई, फिर करीब 32 कदम तक घिसटती चली गई। इस बीच वेदांत का शरीर उछलकर बाहर आ गया। दूसरी ओर कार चला रहे निश्चल इस तरह से दूर फिंकाया, जिससे उसकी खोपड़ी ही बाहर आ गई।

आगे की स्लाइड्स में देखें PHOTOS...
एंडेवर कार का निर्माण फोर्ड कंपनी करती है। एंडेवर कार का निर्माण फोर्ड कंपनी करती है।
4 पलटी खाकर कार करीब 32 कदम तक घिसटती चली गई। 4 पलटी खाकर कार करीब 32 कदम तक घिसटती चली गई।
कार पेड़ से टकराई थी। कार पेड़ से टकराई थी।
पेड़ से टकराने के बाद कार पलट गई थी। पेड़ से टकराने के बाद कार पलट गई थी।
कार पलटकर चक्कर खाने लगी थी। कार पलटकर चक्कर खाने लगी थी।
चक्कर खाने के दौरान कार दूसरे पेड़ से टकराई थी। चक्कर खाने के दौरान कार दूसरे पेड़ से टकराई थी।
कार ड्राइवर निश्चल जैन की खोपड़ी फटकर बाहर आ गई थी। कार ड्राइवर निश्चल जैन की खोपड़ी फटकर बाहर आ गई थी।
X
शनिवार देर रात फूल स्पीड में कार एक पेड़ से टकराई।शनिवार देर रात फूल स्पीड में कार एक पेड़ से टकराई।
एंडेवर कार का निर्माण फोर्ड कंपनी करती है।एंडेवर कार का निर्माण फोर्ड कंपनी करती है।
4 पलटी खाकर कार करीब 32 कदम तक घिसटती चली गई।4 पलटी खाकर कार करीब 32 कदम तक घिसटती चली गई।
कार पेड़ से टकराई थी।कार पेड़ से टकराई थी।
पेड़ से टकराने के बाद कार पलट गई थी।पेड़ से टकराने के बाद कार पलट गई थी।
कार पलटकर चक्कर खाने लगी थी।कार पलटकर चक्कर खाने लगी थी।
चक्कर खाने के दौरान कार दूसरे पेड़ से टकराई थी।चक्कर खाने के दौरान कार दूसरे पेड़ से टकराई थी।
कार ड्राइवर निश्चल जैन की खोपड़ी फटकर बाहर आ गई थी।कार ड्राइवर निश्चल जैन की खोपड़ी फटकर बाहर आ गई थी।
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना