पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हरेन पंडया की पत्नी जागृति की 'घर वापसी': बाल अधिकार आयोग की अध्यक्ष बनीं

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अहमदाबाद। गुजरात के पूर्व गृह मंत्री स्वर्गीय हरेन पंडया की विधवा जागृति पंडया को गुजरात राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। उनका कार्यकाल तीन वर्ष का होगा। सामाजिक न्याय और अधिकारिता विभाग के अंतर्गत गुजरात स्टेट कमीशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट एक्ट 2005 के तहत जागृति पंड्या को बाल अधिकार आयोग का अध्यक्ष बनाया गया है।
लड़ाई न्यायिक रही है भाजपा के खिलाफ नहीं: जागृति
जागृति को भाजपा की भारतीबहन तडवी की जगह अध्यक्ष बनाया गया है। इस संबंध में परिपत्र जारी कर दिया गया है। जागृति की इस नियुक्त को राजनीति गणित के रूप में देखा जा रहा है। वे 13 साल से दिवंगत पति को न्याय के लिए संघर्षरत रही हैं। उनके निशाने पर गुजरात सरकार एवं सीबीआई तक रही। हालांकि जागृतिबहन ने कहा कि उनकी लड़ाई न्यायिक रही है भाजपा के खिलाफ नहीं। अब मैं आधिकारिक रूप से भाजपा में हूं।
आनंदीबेन ने की थी मुलाकात:
गौरतलब है कि गत दिनों विहिप नेता प्रवीण तोगड़िया के पुत्र के विवाह समारोह में आरएसएस के वरिष्ठ नेता संजय जोशी और जागृति की मुख्यमंत्री आनंदीबेन से मुलाकात हुई थीं। इसी के बाद से उनकी बीजेपी में वापसी की अटकलें लगाई जा रही थीं।
अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर कर दी थी पति की हत्या:
पंडया की वर्ष 2003 में यहां सुबह की सैर के दौरान अज्ञात हमलावरों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी। ज्ञातव्य है कि पूर्व में केशुभाई पटेल की पार्टी गुजरात परिवर्तन पार्टी (जिसका बाद में भाजपा में विलय हो गया) की टिकट पर यहां इलिसब्रिज क्षेत्र से विधानसभा चुनाव लड़ चुकी श्रीमती पंडया ने अपने पति की हत्या की सीबीआई से जांच कराने की मांग की थी।
आगे की स्लाइड्स में देखें, स्वर्गीय हरेन पंड्या की फाइल फोटो:

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय निवेश जैसे किसी आर्थिक गतिविधि में व्यस्तता रहेगी। लंबे समय से चली आ रही किसी चिंता से भी राहत मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए बहुत ही फायदेमंद तथा सकून दायक रहेगा। ...

और पढ़ें