पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भाजपा विधायकों के लिए मोदी एप रखना अनिवार्य

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

अहमदाबाद .गुजरात के भाजपा विधायकों को अपने मोबाइल में मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी का एप्लीकेशन (मोदी एप) रखना अनिवार्य है। मंत्रियों एवं पार्टी के अन्य नेताओं के मोबाइल में भी यह एप होना चाहिए। इससे हर घंटे में मोदी के संबंध में अपडेट जानकारी उन्हें मिलती है।

पार्टी के 113 विधायकों के लिए कार्यशाला का आयोजन किया गया है। पार्टी की प्रदेश इकाई की आईटी टीम ने विधायकों से मोदी एप के बारे में पूछताछ की। करीब 50 विधायकों के मोबाइल में एप्लीकेशन नहीं था। टीम ने इसे अपलोड किया। विधायकों को इसका इस्तेमाल भी सिखाया।

सभी विधायकों से उनके ई-मेल एड्रेस और फेसबुक व ट्विटर अकाउंट्स की जानकारी ली गई। सोशल साइट्स पर जिनके अकाउंट नहीं थे, उनके अकाउंट खोले गए। ट्रेनिंग सेशन में गुजरात के बाहर के नेताओं को भी बुलाया गया था।
गुजरात कांग्रेस में असंतोष

गुजरात कांग्रेस में असंतोष
. राजकोट गुजरात के कांग्रेस नेताओं में असंतोष उभरता दिख रहा है। अब पार्टी सांसद कुंवरजी बावलिया के नाराज होने की बात सामने आई है। कहा यहां तक जा रहा है कि बावलिया पार्टी छोडऩे के मूड में हैं। बावलिया अभी राजकोट से कांग्रेस के सांसद हैं।

सूत्रों का कहना है कि वे अगले सप्ताह पार्टी आलाकमान से मुलाकात के बाद कोई अंतिम फैसला करेंगे। विधानसभा चुनाव-2012 में बावलिया ने बोटाद विधानसभा सीट से भाग्य अजमाया था। वे कांग्रेस के दूसरे ऐसे सांसद हैं जिनके नाराज होने की बात सामने आई है।

अभी तक विठ्ठल रादडिया के पार्टी से खफा होने के संकेत मिल रहे थे। रादडिया के निकट सूत्रों का कहना है कि वे अपने विधायक बेटे जयेश के साथ पार्टी छोडऩे वाले हैं। अगले सप्ताह इस बारे में स्थिति साफ हो सकती है। कहा जा रहा है कि रादडिया पिता-पुत्र भाजपा में शामिल होकर पुन: चुनाव लड़ेंगे। तत्पश्चात इन्हें पार्टी-सरकार में कोई अहम जिम्मेदारी मिल सकती है।

रादडिया पिता-पुत्र दोनों अभी कांग्रेस विधायक हैं। रादडिया ने रविवार को मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। उधर, वरिष्ठ कांग्रेस नेता अर्जुन मोढवाडिया ने शनिवार को कहा कि समझाने का समय बीत गया है। एक बार उनके फैसला कर लेने के बाद बात करने का कोई अर्थ नहीं रहता।