पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कांग्रेस को सौराष्ट्र में करारा झटका, रादडिया ने कांग्रेस छोड़ मोदी का दामन थामा

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अहमदाबाद। सौराष्ट्र के वरिष्ठ पटेल नेता व पोरबंदर के पूर्व सांसद विट्ठल रादडिया ने बेटे जयेश के साथ सोमवार को गुजरात विधानसभा की सदस्यता से त्याग पत्र दे दिया। वे अंचलकी धोराजी से विधायक थे जबकि जयेश रादडिया जेतपुर से चुनाव जीत कर विधानसभा पहुंचे थे। रादडिया पिता-पुत्र ने विधानसभा अध्यक्ष को अपना त्याग पत्र सौंपा। तत्पश्चात भाजपा से जुड़ने का ऐलान कर कांग्रेस पर बरसे।
वरिष्ठ रादडिया ने कांग्रेस पर नकारात्मक राजनीति कर गुजरात के साथ अन्याय करने का आरोप लगाया। साथ ही कहा कि मैंने नर्मदा योजना का कई बार मुद्दा उठाया लेकिन कांग्रेस को इस मुद्दे पर केवल राजनीति कर गुजरात को नुकसान पहुंचाने में ही दिलचस्पी है। भाजपा की नरेन्द्र मोदी सरकार ने विकास को बल प्रदान किया है। विकास यात्रा के रहबर बनने की इच्छा के चलते विधायक पद से त्याग पत्र देकर भाजपा में शामिल होने का निर्णय किया है। जेतपुर के विधायक जयेश रादडिया ने कांग्रेस को युवा-विकास विरोधी करार दिया। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी युवा दिखें, इतना ही पर्याप्त नहीं है। युवाओं को घोर अंधकारमयी स्थिति में रखना उनका कार्य है। देश अथवा गुजरात के मतदाता उन्हें स्वीकार नहीं करते। कांग्रेस युवा और विकास विरोधी है।