• Hindi News
  • Haryana
  • Ambala
  • जीएमएन काॅलेज में संस्कृत पर हुई संगोष्ठी
--Advertisement--

जीएमएन काॅलेज में संस्कृत पर हुई संगोष्ठी

Ambala News - अम्बाला| हरियाणासंस्कृत अकादमी, पंचकूला के तत्वाधान में जीएमएन कॉलेज के प्रांगण में संस्कृत विभाग द्वारा...

Dainik Bhaskar

Aug 13, 2017, 03:00 AM IST
जीएमएन काॅलेज में संस्कृत पर हुई संगोष्ठी
अम्बाला| हरियाणासंस्कृत अकादमी, पंचकूला के तत्वाधान में जीएमएन कॉलेज के प्रांगण में संस्कृत विभाग द्वारा ‘संस्कृत को लेकर व्यवसाय से संबंधित फैली हुई भ्रांतियां एवं उनका निराकरण’ विषय पर एक दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी एवं कार्यशाला का आयोजन किया गया। संगोष्ठी का प्रारंभ अकादमी के निदेशक डॉ. सोमेश्वर अन्य ने दीप प्रज्ज्वलन से किया। इस सम्मेलन में हरियाणा राज्य एवं पूरे भारतवर्ष से आए संस्कृत विद्वानों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया।

कार्यक्रम के अध्यक्ष हरियाणा संस्कृत अकादमी के निदेशक डॉ. सोमेश्वर ने कहा कि हरियाणा संस्कृत अकादमी का कार्य राज्य में संस्कृत भाषा के प्रचार प्रसार के लिए कार्य करना है। इसी कड़ी में अकादमी द्वारा इस प्रकार की संगोष्ठियों का आयोजन संपूर्ण हरियाणा राज्य में भिन्न-भिन्न स्थानों पर किया जाता है।

प्राचार्य डॉ. राजपाल सिंह ने कहा कि संस्कृत भारतीय भाषाओं की जननी है और इसकी किसी अन्य भाषा से प्रतिस्पर्धा नहीं है। मंच संचालन की भूमिका संस्कृत विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ. राजेन्द्र ने सफलतापूर्वक निभाई। कार्यक्रम को कुल तीन सत्रों में बांटा गया। प्रथम सत्र के मुख्य वक्ता डॉ. मान सिंह रहे। इसके साथ ही डॉ. हेमंत गोस्वामी, मेजर जनरल एके शोरी ने भी संस्कृत भाषा को संस्कारों का पर्याय बताया। डॉ. सुरेन्द्र मोहन मिश्रा, संस्कृत विभाग कुरुक्षेत्र एवं डॉ. नीरज अत्री ने कहा कि आज के प्रोद्योगिक युग में संस्कृत भाषा महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती है। इस अवसर पर डॉ. वीके जैन, डॉ. गीता सालवान, डॉ. रचना, डॉ. सुदर्शन गासो, प्रो. सज्जन सिंह, सतीष मौदगिल, सीमा कंसल, प्राचार्य डॉ. कामदेव झा एवं अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

कैंट के जीएमएन कॉलेज में संस्कृत कार्यक्रम के दौरान संबोधित करते मुख्यातिथि उपस्थित अतिथिगण।

X
जीएमएन काॅलेज में संस्कृत पर हुई संगोष्ठी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..