पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Ambala
  • आंगनवाड़ी वर्करों ने छह महीने से वेतन नहीं मिलने को लेकर किया प्रदर्शन

आंगनवाड़ी वर्करों ने छह महीने से वेतन नहीं मिलने को लेकर किया प्रदर्शन

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अम्बाला| उत्तरीयरेलवे मजदूर यूनियन अम्बाला की तीनों शाखाओं द्वारा सोमवार एक विशाल जुलूस निकाला गया। इसके उपरांत कैट रेलवे स्टेशन के मुख्यद्वार पर गेट मीटिंग का आयोजन किया गया। मीटिंग का मुख्य मुद्दा रेलवे बोर्ड द्वारा 30 जनवरी को जारी आदेश था, इसमें यह कहा गया कि जो कर्मचारी ग्रेड पे 4200 उससे ऊपर सुपरवाइजर सेफ्टी कैटेगरी में कार्यरत है वह 31 मार्च के पश्चात यूनियन पदाधिकारी नहीं रह सकता। मंडल सचिव अम्बाला मंडल विजय चोपड़ा द्वारा सैकंडों कर्मचारियों को संबोधित करते हुए बताया कि रेलवे में करीब 2 लाख पद रिक्त हैं। अम्बाला, सहारनपुर, बठिंडा रेलवे स्टेशनों पर गार्ड ड्राइवर की पोस्ट खाली पड़ी है। इस कारण कर्मचारी से निर्धारित समय से ज्यादा घंटे डयूटी ली जा रही है जोकि सुरक्षा के खिलाफ है। ठेकेदारी प्रथा रेल के लिए रेल यात्रियों के लिए हानिकारक है। स्टेशन मास्टर, गैंगमैन, गेटमैन, कांटेवाले इत्यादि 12-12 घंटे की डयूटी कर रहे हैं। इंजन कोच का शैड्यूल तो बढ़ाया ही जा रहा है, लेकिन पोस्ट सरेंडर की जा रही है जोकि दुर्घटना का मुख्य कारण है। रेलवे बोर्ड द्वारा जारी आदेश ट्रेड यूनियन एक्ट के विरुद्ध हैं। सभा को मुकेश शर्मा ने भी संबोधित किया।

नारायणगढ़| सरकारके खिलाफ जोरदार प्रदर्शन करते आंगनवाड़ी वर्कर हेल्पर्स यूनियन।

कैंट रेलवे स्टेशन परिसर में गेट मीटिंग के दौरान नारे लगाते हुए यूआरएमयू के सदस्य।

खबरें और भी हैं...