• Hindi News
  • Haryana News
  • Gurgaon
  • कार्यशाला में छात्रों को कराया कपड़े और परिधान का ज्ञान
--Advertisement--

कार्यशाला में छात्रों को कराया कपड़े और परिधान का ज्ञान

परिधानट्रेनिंग एंड डिजाइन सेंटर, गुड़गांव परिसर में फैब्रिक और गारमेंट परीक्षण पर एक कार्यशाला का आयोजन किया।...

Dainik Bhaskar

May 20, 2016, 02:10 AM IST
कार्यशाला में छात्रों को कराया कपड़े और परिधान का ज्ञान
परिधानट्रेनिंग एंड डिजाइन सेंटर, गुड़गांव परिसर में फैब्रिक और गारमेंट परीक्षण पर एक कार्यशाला का आयोजन किया। इसमें एटीडीसी के 50 से अधिक छात्रों सहित उद्योग कर्मियों ने भाग लिया। कार्यशाला का मुख्य उद्देश्य कपड़े और परिधान के परीक्षण के क्षेत्र में छात्रों के ज्ञान का अभ्युत्थान करना था। इसके माध्यम से उन्हें रेशे के विश्लेषण, भौतिक गुण, रासायनिक गुण, कपड़े की मजबूती, रंग स्थिरता में प्रशिक्षण प्रदान किया गया। इससे जहां छात्रों के करियर को गति तो मिलेगी ही, साथ ही साथ उद्योग कर्मियों के कौशल का स्तर भी समृद्ध होगा।

इस परीक्षण का महत्व, नियामक आवश्यकताओं और संबंधित देश के सुरक्षा मानकों के अनुपालन के लिए है। जिससे यह जान सके कि इस्तेमाल किए जाने वाले कपड़े उचित है या नहीं। इस परीक्षण द्वारा जांच के बाद वापसी की प्रक्रिया से बचने में मदद मिलेगी और इससे भी महत्वपूर्ण बात यह है कि ब्रांड का संरक्षण भी होगा। एटीडीसी की प्राचार्या मंजू सिंह ने कहा कि कपड़े फैब्रिक और गारमेंट परीक्षण के प्रदर्शन से लक्षित उपभोक्ताओं को आवश्यक गुणवत्ता की एक अंतर्दृष्टि प्रदान होगी। ऐसे कार्यशालाओं के माध्यम से मानक रेशे और कपड़े के उत्पाद विकास में मदद मिलेगी। इस परीक्षण प्रकिया में मूल रूप से तीन चरण आते हैं। पहले चरण में कच्चे माल की जांच, जिसमें रेशा और धागा परीक्षण है, दूसरे चरण में कपड़ा परीक्षण आता है, जिसमें उत्पाद को अंतिम रूप देने से पहले, भौतिक, रंग और रासायनिक गुणों की जांच होती है और तीसरा तथा अंतिम चरण नियामक परीक्षण होता है।

टीयूवी राईनलैंड प्रयोगशाला के वरिष्ठ प्रबंधक अमित सलूजा ने कहा कि परिधान के क्षेत्र में नियामक मापदंडों के अनुपालन की पुष्टि करने के लिए प्रत्येक स्तर पर कपड़ा का परीक्षण, विश्लेषण तथा उत्पादों का प्रदर्शन आंकलन एक महत्वपूर्ण कार्य है।

गुड़गांव. फैब्रिकऔर गारमेंट परीक्षण की कार्यशाला में मौजूद छात्र।

X
कार्यशाला में छात्रों को कराया कपड़े और परिधान का ज्ञान
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..