एमटीपी किट के साथ झोलाछाप डॉक्टर गिरफ्तार

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
गुड़गांव | अवैध रूप से गर्भपात किए जाने की दवा देने वाले एक कथित डॉक्टर को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बुधवार को रेड कर धर दबोचा है। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने यह कार्रवाई शिकायत के आधार पर की है। विभाग की कार्रवाई को देखते हुए आसपास के एरिया में हड़कंप मच गया और यहां क्लीनिक चलाने वाले अनेक डॉक्टर यहां से अपना क्लीनिक बंद कर भाग खड़े हुए। टीम ने इसकी सूचना पुलिस को दी। यहां रखी एमटीपी किट को विभाग ने सील कर पुलिस को शिकायत दी है। पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

स्वास्थ्य विभाग को शिकायत मिली थी कि सेक्टर-52 में डॉ ए बिश्वास मधु क्लीनिक के नाम से अपना क्लीनिक चलाते हैं। इनके पास कोई डिग्री भी नहीं है। वे यहां पर अवैध रूप से एमटीपी किट रखते हैं और गर्भवती महिलाओं का अबॉर्शन भी करते हैं। इस पर स्वास्थ्य विभाग ने टीम गठित की। टीम में डॉ. शालिनी, डॉ. प्रीति, डॉ. दीपशिखा के साथ-साथ एएनएम बिमलेश तथा स्टाफ नर्स कुलदीप को शामिल किया गया। बुधवार को टीम ने उक्त क्लीनिक पर रेड की और यहां कथित डॉक्टर को दबोच लिया। जांच के दौरान यहां 7 एमटीपी किट बरामद हुई। टीम ने बताया कि उक्त डॉक्टर से जब उनकी डिग्री व सर्टिफिकेट मांगे गए तो वे पेश नहीं कर पाए। ही डॉक्टर ने यहां केवल कुछ डॉक्यूमेंट्स की फोटोकॉपी दिखाई। कथित डॉक्टर के पास 2015 का एक आईडीकार्ड मिला है। विभाग की टीम द्वारा रेड किए जाने की सूचना जब क्षेत्र में फैली तो आसपास क्लीनिक खोल कर बैठे अन्य डॉक्टर भी वहां से क्लीनिक बंद कर फरार हो गए। इसकी सूचना विभाग ने पुलिस को दी। यहां रखी एमटीपी किट को सील कर दिया गया। विभाग की ओर से पुलिस को लिखित शिकायत दी गई है। जिसके आधार पर पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।
खबरें और भी हैं...