इस बदलते मौसम में हो रही है एलर्जी, जानिए इनसे बचने के क्या हैं घरेलू उपाय

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

बल्लभगढ़. वातावरण में उमस से लोगों की परेशानी बढ़ने लगी है। चर्म रोग व स्किन एलर्जी के मामले निजी व सरकारी अस्पतालों में लगातार बढ़ रहे हैं। सिविल अस्पताल की ओपीडी में प्रतिदिन 10 मरीज चर्म रोग व स्किन एलर्जी के आ रहे हैं। डॉक्टर सफाई व खानपान में सावधानी बरतने की सलाह मरीजों को दे रहे हैं।

स्किन स्पेशलिस्ट डॉ. अनुज गोयल का कहना है कि पिछले एक सप्ताह से मौसम में लगातार उमस बनी हुई है। इससे दिनभर बदन पसीने से तरबतर रहता है। वहीं गर्मी की वजह से लोग आधी बाजू की शर्ट या टी-शर्ट डाल रहे हैं। इससे चेहरे व हाथों पर पसीने में धूल व मिट्टी जमती रहती है।

चेहरे व हाथों की ओर ध्यान न देने से यही मिट्टी व पसीना मिलकर स्किन एलर्जी व चर्म रोगों को आमंत्रण दे रहे हैं। हाथों आदि पर निकले रहे छोटे-छोटे दाने स्किन एलर्जी का रूप लेने लगे हैं। मरीज अक्सर स्किन एलर्जी व चर्म रोग का प्रकोप बढ़ने पर दवा लेने पहुंच रहे हैं।

स्किन की केयर करें

चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुधा सिंह कहती हैं कि इस मौसम में शरीर की देखभाल अत्यंत जरूरी है। सबसे अधिक जरूरी तो स्किन की केयर करना है। कोशिश करनी चाहिए कि शरीर के अंगों को ढक कर रखा जाए। शर्ट पूरी बाजू की पहनें।

मच्छरों से बचने के लिए स्प्रे या किसी अन्य साधन का प्रयोग किया जा सकता है। कोई भी एलर्जी होने पर तुरंत प्रशिक्षित डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। उनका कहना है कि हर एक घंटे बाद हाथ व मुंह धोने से काफी हद तक स्किन एलर्जी, चर्म रोग व घमोरियां से बचा जा सकता है। नहाते समय पानी में डिटॉल मिलाने से भी इन रोगों से बचा जा सकता है।

आगे की स्लाइड्स में जानें क्या हैं वो घरेलू उपाय जिनसे बचा जा सकता है एलर्जी से-

यह भी पढ़ें-

52 साल के बेटे ने किया 28 साल के पिता का दाह संस्कार और बोला- धन्य हो गया

इस बदलते मौसम में हो रही है एलर्जी, जानिए इनसे बचने के क्या हैं घरेलू उपाय

हरियाणा में चल रहे एक स्कूल की सच्चाई जानकर आपको भी होगा आश्चर्य

कोर्ट ने अचानक सुनाया ऐसा फैसला कि गश खाकर गिर पड़े इंस्पेक्टर साहब

अपनाएंगे इसे तो आधे दाम पर मिलेगा डीजल-पेट्रोल, जापान भी करता है ऐसा!

हुक्काबारों पर लगा बैन, 600 रुपए में स्कूली बच्चों ने किया 'सेक्स इन स्मोक'

16 साल की उम्र में ही फोन पर की थी इतनी बात कि गवां दिए थे 40 हजार!

पुलिस की मौजूदगी में भी उलझते रहे, निगम में तीन घंटे तक चली ‘FIGHT’

गलती करने पर लड़कियों को कर दिया जाता था लड़कों के साथ कमरे में बंद!

बंदूक के साए में जिंदगी : बवाल के बाद पूरा इलाका हुआ छावनी में तब्दील

तस्वीरें बयां करती हैं कितना तड़पा होगा ये शख्स, घर में छाया मातम का माहौल

कुदरत का करिश्मा : 45 साल के इंतजार के बाद आज आएगा शव