पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Khap Panchayat Delhi Chandigarh Came From The Re

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

खाप पंचायत में दिल्ली-चंडीगढ़ से पहुंची रिसर्च स्कॉलर

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बीबीपुर. दिल्ली और पंजाब यूनिवर्सिटी की कई रिसर्च स्कॉलर भी महापंचायत को देखने बीबीपुर पहुंची थी। ये लड़कियां खाप पंचायतों से जुड़े विषय पर रिसर्च कर रही हैं और उनकी समाज में भूमिका के बारे में तथ्य जुटा रही हैं। इनका कहना था कि हरियाणवी कल्चर में महिलाओं को खाप में पुरुषों के साथ एक मंच पर बैठने का मौका मिलना अच्छी शुरुआत है लेकिन महिलाओं की भागीदारी अधिक होनी चाहिए। उन्हें खुले विचार वाली बनना चाहिए। दिखा बदला चेहरा मैं ‘महिलाओं का खाप पंचायतों में योगदान’ विषय पर पीएचडी कर रही हूं। खापों को हमेशा तुगलकी फरमान जारी करने वाला पेश किया जाता रहा है पर यहां इनका बदला चेहरा देखा। बेटियां बचाने के लिए अगर खाप आगे आएंगी तो शायद यह कलंक नहीं रहेगा। नीलम जैन, शोधार्थी, दिल्ली यूनिवर्सिटी पूरी तरह नहीं डेमोक्रेटिक पहली महिला पंचायत होना सराहनीय कदम है पर यहां कुछ कमी नजर आई। खाप प्रतिनिधियों ने निर्णायक कमेटी में किसी महिला को शामिल नहीं किया। मंच पर चंद महिलाओं को बैठने दिया गया। मैं खाप पंचायतों के स्ट्रक्चर और उनके रोल पर रिसर्च कर रही हूं। - निर्मला, शोधार्थी, पंजाब यूनिवर्सिटी देश के लिए उदाहरण महापंचायत में महिलाएं बेहिचक बोलीं, जो लीक से हटकर है। पंडाल में बैठी महिलाओं ने भी जंग का समर्थन किया। बीबीपुर का यह प्रयास देश में एक उदाहरण है। अगर सामाजिक मुद्दों में महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित की जाए तो बुराइयां मिट सकती हैं। सुप्रिया ढांडा, लेक्चरर, फरीदाबाद

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय चुनौतीपूर्ण है। परंतु फिर भी आप अपनी योग्यता और मेहनत द्वारा हर परिस्थिति का सामना करने में सक्षम रहेंगे। लोग आपके कार्यों की सराहना करेंगे। भविष्य संबंधी योजनाओं को लेकर भी परिवार के साथ...

और पढ़ें