पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • बीमारी से बचाव के लिए तालाब के गंदे पानी को सिंचाई में इस्तेमाल करने की मांग

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बीमारी से बचाव के लिए तालाब के गंदे पानी को सिंचाई में इस्तेमाल करने की मांग

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भैरीअकबरपुर गांव से करीब 30 लोग सोमवार को लघु सचिवालय स्थित उपायुक्त कार्यालय में पहुंचे। उन्होंने डीसी को प्रार्थना पत्र देकर बताया कि गांव में बाबा रामदेव मंदिर के पास गांव का गंदा पानी तालाब में गिराया जाता है। बारिश के दिनों में पानी आस-पास के घरों में घुस जाता है।

जिससे लोगों को बीमारियां फैलने का भय बना रहता है। ग्रामीणों की मानें तो उन्होंने सरपंच को समस्या बताई। कोई समाधान नहीं निकला तो ग्रामीणों ने स्वयं ही मोटर पंप लगाकर तालाब से गंदा पानी पास के खेतों में निकालना शुरू कर दिया। सरपंच ने गंदा पानी तालाब से बाहर निकालने से इनकार कर दिया। अब लोगों ने डीसी से पानी निकलवाने की अनुमति मांगी है।

मांग करने वालों में यह शामिल रहे

ग्रामभैरी अकबरपुर से आए ग्रामीणाें में रामजीलाल ढाका, प्रकाश, लालजी, रामकुमार, फूलराम, रामकिशन, देवीलाल, खिराज, बलवीर, मनोज, कृष्ण, बलराज, इंद्र गोसाई, ओमप्रकाश आदि उपस्थित रहे।

पहले मांगे रुपये फिर बुलाई पुलिस

भूपेंद्रसिंह ने बताया कि पानी निकालने को सरपंच ने लोगों से 100 रुपये प्रति घंटे के हिसाब से रुपयों की मांग की। लोगों ने इनकार कर दिया तो उन्होंने पुलिस बुला ली। पुलिस पानी निकालनेे में प्रयोग हो रही मोटर पंप सैट, ट्यूब आदि जब्त कर ले गई। यही नहीं ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि चार लोगों के खिलाफ सरपंच ने शिकायत भी कर दी। ग्रामीणों ने डीसी से पुलिस द्वारा जब्त किया सामान वापस दिलाने की अपील की है।

सोमवार को लघु सचिवालय में डीसी से गांव में गंदे पानी के तालाब को साफ कराने की मांग लेकर पहुंचे ग्रामीण बोतल में गंदा पानी दिखाते।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति पूर्णतः अनुकूल है। बातचीत के माध्यम से आप अपने काम निकलवाने में सक्षम रहेंगे। अपनी किसी कमजोरी पर भी उसे हासिल करने में सक्षम रहेंगे। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और...

    और पढ़ें