• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • टीम के सामने ही नर्स ने सरपंच से की हाथापाई ग्रामीणों ने डॉक्टर नर्स पर लगाए गंभीर आरोप

टीम के सामने ही नर्स ने सरपंच से की हाथापाई ग्रामीणों ने डॉक्टर नर्स पर लगाए गंभीर आरोप

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
करीबदस दिन पूर्व भाजपा नेता के बेटे डॉक्टर वैभव बिदानी और सरपंच के पति भूपेन्द्र के बीच नोकझोंक मामले में सोमवार को स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की टीम जांच के लिए गांव पहुंची। टीम ने सरपंच के पति और दो अन्य पंचायत प्रतिनिधियों के बयान दर्ज किए। ग्रामीणों को जैसे ही इस बात का पता चला कि मामले कि जांच के लिए गांव के पीएचसी में टीम पहुंची हुई है तो वहां ग्रामीणों को जमावड़ा लग गया।

इस दौरान ग्रामीणों ने सरपंच के पति भूपेन्द्र को निर्दोष बताया और डॉक्टर वैभव बिदानी पर जमकर भड़ास निकाली। ग्रामीणों का कहना था कि गांव की पीएचसी पर तैनात डॉक्टर ग्रामीणों के साथ अभद्र व्यवहार करते हैं और अपनी मनमानी करते हैं। जांच टीम में डिप्टी सीएमओ डॉक्टर राजीव बिश्नोई , डीएओ डॉक्टर धर्मपाल पूनियां, सीएचसी आर्यनगर एसएमओ डॉक्टर अमरजीत भुक्कल शामिल थे।

येथा मामला

चौधरीवासगांव के पीएचसी केन्द्र पर सुविधाओं को लेकर भाजपा नेता के डॉक्टर बेटे वैभव बिदानी और गांव के सरपंच के पति भूपेन्द्र के बीच नोकझोंक हो गई थी। डाक्टर वैभव बिदानी ने भूपेन्द्र पर मारपीट का आरोप लगाया था। उसी दिन देर साम दोनों पक्षों में समझौता भी हो गया था। मगर दूसरे दिन डॉक्टर वैभव की शिकायत पर आजाद नगर चौकी पुलिस ने भूपेन्द्र और दो अन्य के खिलाफ डॉक्टर वैभव की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया था।

एफआईआर करवा रखी है

^मेराकाम डिलिवरी विभाग से नहीं है। दूसरी बात मेरे खिलाफ शिकायत की है तो मैंने इससे पहले सरपंच के पति के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवा रखी है जिसके चलते ये सब कुछ हो रहा है। बाकि निर्णय जांच टीम करेगी।’’ डॉ.वैभव बिदानी, पीएचसी, चौधरीवास।

दोषियों पर होगी कार्रवाई

^चौधरीवासमामले में जांच चल रही है। जांच के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। दूसरी बात पीएचसी में स्टाफ की शिकायत की है तो इस मामले में भी जांच की जाएगी। जो दोषी होगा उन पर विभागीय कार्रवाई की जाएगी।\\\'\\\' डॉ.जेएस ग्रेवाल, सीएमओ, सामान्य अस्पताल, हिसार।

मामले को लेकर पीएचसी में एकत्रित हुए ग्रामीणों को समझाते हुए टीम के सदस्य।

ग्रामीणों की सुनवाई के दौरान अधिकारियों की मौजूदगी में ही एक नर्स ने सरपंच रेखाबाई के साथ हाथापाई के लिए उतारू हो गई। रेखाबाई ने नर्स को कई बार समझाने की कोशिश की मगर नर्स ने सरपंच की एक सुनी। इस पर मौके पर मौजूद महिलाएं नर्स पर भड़क गई। मामले को देखकर ग्रामीणों ने बीच बचाव किया।

टीम के सामने महिलाओं और ग्रामीणों ने पीएचसी स्टाफ पर गंभीर आरोप लगाए। ग्रामीणों ने अधिकारियों को लिखित में शिकायत दी। मौैके पर पहुंची महिलाओं बताया कि पीएचसी पर तैनात नर्सों के पति हर समय पीएचसी पर बेवजह से मौजूद रहते हैं, जिसकी वजह से महिलाएं अस्पताल में आने से कतराती हैं। साथ ही प्रसव के दौरान नर्सों की लापरवाही की शिकायत टीम से की।

खबरें और भी हैं...