पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • आंगनवाड़ी वर्कर्स स्कूल स्टाफ ने मिलकर चलाया स्वच्छता अभियान

आंगनवाड़ी वर्कर्स स्कूल स्टाफ ने मिलकर चलाया स्वच्छता अभियान

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
स्वच्छता को लेकर कहीं निकली रैली तो कहीं चली झाड़ू

मेयर ने सफाई के लिए प्रेरित किया

स्वच्छता के बिना स्वास्थ्य अधूरा : अत्री

लोगों को दिया स्वच्छता का संदेश

असंध | उपमंडलके गांव बाहरी में गांव में कार्यरत आंगनवाड़ी वर्करों हेल्परों ने स्वच्छ हरियाणा स्वच्छ भारत अभियान के तहत गुरुवार को पूरे गांव में सफाई अभियान चलाया। लोगों को स्वच्छता का संदेश दिया।

इस मौके पर आंगनवाड़ी वर्कर राकेश, सुरेश कुमारी, मुकेश, सुनीता देवी, बबीता, सरोज देवी, राजो देवी आदि ने हाथों में झाड़ू लेकर गांव की गलियों की सफाई की। इस अभियान में शामिल पंच, चौकीदार, गांव के सफाई कर्मियों ने भी गांव को साफ-सुथरा बनाए रखने का सकंल्प लिया। इस मौके पर हरियाणा पशु पालन विभाग के कर्मी सूरजमल, चौकीदार सतबीर सिंह, रणसिंह पंच, सुभाष नंबरदार, जयवंती, अंगूरी देवी आदि शामिल रहे। उधर स्काउट प्रभारी भारत भूषण वर्मा विशेष शिक्षक राकेश कुमार नेमा की अगुवाई में रावमा असंध के बच्चों ने असंध नगर में स्वच्छता जागरूकता एवं सफाई अभियान चलाया। बच्चों ने जहां एक ओर निकासी नालियों गलियों खाली प्लाटों की सफाई की। वहीं दूसरी ओर आमजन को स्वच्छता के महत्व के बारे में बताते हुए इसे जीवन का अभिन्न अंग बनाने के लिए भी प्रेरित किया गया। शिक्षकों ने बताया कि यद्यपि यह अभियान वर्ष 2019 तक जारी रहेगा परंतु मौजूदा स्वच्छता सप्ताह का कल शुक्रवार को विधिवत समापन किया जाएगा। समापन के मौके पर सप्ताह भर की गतिविधियों की समीक्षा भी की जाएगी।

करनाल. विकासकॉलोनी में झाड़ू लगाती मेयर रेणू बाला गुप्ता अन्य।

असंध. गलियोंकी सफाई करते हुए सफाई कर्मी आंगनवाड़ी वर्कर और हेल्पर।

तरावड़ी | गैलेक्सीइंजीनियरिंग कॅालेज भैणी कलां में गुरुवार को स्वच्छता अभियान चलाया गया। कॅालेज के शिक्षकों ने बच्चों के साथ मिलकर कॅालेज परिसर की सफाई करने के बाद गांव में जाग रुकता रैली निकाली। रैली में कॉलेज स्टूडेंट्स ने गांव के लोगों को स्वच्छता के लिए प्रेरित किया। इस दौरान कॅालेज के चेयरमैन दिलराज सिंह ने कहा कि अपने कॅालेज, घर के साथ अपने आस-पास का क्षेत्र स्वच्छ रखना भी हमारा दायित्व है। क्योंकि अधिकतर बीमारियांे का कारण हमारे आस-पास पड़े गंदगी के ढेर ही होते हैं। उन्होंने कहा कि यदि हर व्यक्ति अपने गांव को स्वच्छ बनाने की शपथ ले तो वह दिन दूर नहीं जब पूर