• Hindi News
  • National
  • अंधेेरे के कारण छात्राएं और हेल्पर नहीं पहचान सके बाइक सवार आरोपी

अंधेेरे के कारण छात्राएं और हेल्पर नहीं पहचान सके बाइक सवार आरोपी

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सिटीएरिया में नेशनल हाईवे शाम ढलते ही अंधेरे में डूब जाता है। स्ट्रीट लाइटें बंद हैं। यही कारण है कि शुक्रवार देर रात गुड़गांव का टूर कर यमुनानगर जा रही टूरिस्ट बस पर 3 आरोपियों ने गोलियां चलाईं। अंधेरा इतना था कि आरोपियों की पहचान कोई भी नहीं कर पाया। इससे एक दिन पहले रात के समय ही सेक्टर-12 के शराब ठेके पर लूट की वारदात हुई। इसमें पुलिस के पास सीसीटीवी फुटेज हैं। पुलिस ने फुटेज को टूरिस्ट बस में छात्राओं और ड्राइवर-हेल्पर को पहचान करने के लिए दिखाई, लेकिन वह पहचान नहीं सकीं। पुलिस को दिए बयान में छात्राओं ने बताया कि अंधेरे के कारण वह आरोपियों के चेहरे को देख नहीं सकीं। एक बाइक पर 3 युवक थे, यह पक्का है। पुलिस का मानना है कि शराब ठेके पर वारदात करने वाले आरोपियों ने ही दूसरे दिन यह वारदात की है।

घटना के वक्त छात्राएं खेल रही थीं अंताक्षरी

यमुनानगरके मुकुंद लाल स्कूल के 11वीं और 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों का टूर गुड़गांव से शुक्रवार रात लौट रहा था। छात्राएं तालियां बजाते हुए अंताक्षरी खेल रही थीं। प्रशासन 15 अगस्त से हाईवे की लाइटों को जगमग करने पर जोर दे रहा है। लेकिन लाइटें जलने के कारण हाईवे सुनसान दिखता है। सिटी के बीच से गुजर रहे हाईवे पर नियमों का उल्लंघन किया जा रहा है।

^तीन अज्ञात आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। पल्सर बाइक पर आरोपियों ने वारदात की। आईटीआई चौक के पास गालियां चलाई हैं। छात्राओं को फुटेज दिखाई गई हैं। बयान दिए हैं कि अंधेेरे के कारण आरोपियों को नहीं देख पाईं।- मोहनलाल,एसएचओ, सिविल लाइन

खबरें और भी हैं...