पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • केयू हॉस्टल में फिर छलके जाम, कमरे रद्द

केयू हॉस्टल में फिर छलके जाम, कमरे रद्द

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कुरुक्षेत्र | कुरुक्षेत्रयूनिवर्सिटी के हॉस्टलों में जाम छलकने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। बुधवार देर रात हॉस्टल में हुड़दंगबाजी की सूचना मिलने पर चीफ वार्डन डॉ. सतदेव हॉस्टल के मुख्य सुरक्षा अधिकारी डॉ. सुरेश ड्रोलिया के नेतृत्व में टीम ने प्रताप भवन में छापेमारी की। इस दौरान छह कमरों में शराब की खाली बोतलें आउटसाइडर मिले। चीफ वार्डन ने सभी कमरों को रद्द कर दिया। हालांकि आउट साइडर भागने में कामयाब रहे।

डॉ. सुरेश ड्रोलिया ने बताया कि छापेमारी के दौरान प्रताप भवन के कमरा नंबर बी-9 से शराब की खाली बोतलें बरामद हुई। जिसके चलते कमरे को रद्द कर दिया गया। कमरा नंबर बी-11 में भी यही स्थिति थी। यह कमरा छात्र पंकज के नाम अलाट था। इसे भी चीफ वार्डन ने तुरंत कैंसिल कर दिया। कमरा नंबर डी-14 में आउट साइडर पाया गया, यह कमरा छात्र विकास के नाम पर अलाट है। आउट साइडर पाए जाने पर छात्र को एक हजार रुपए जुर्माना किया गया।

कमरा नंबर डी-17 की छात्रों ने शिकायत दी थी कि इसमें छात्र और आउट साइडरों द्वारा शराब पीकर हुड़दंगबाजी की जा रही थी। यह कमरा छात्र विशाल विपिन के नाम अलाट था। छापेमारी में छात्र विशाल आउट साइडर भागने में कामयाब हो गए। चीफ वार्डन ने इस कमरे को भी रद्द कर दिया। इसके अलावा बी-52 में आउट साइडर पाया गया। यह कमरा एमएससी के छात्र सुमित के नाम अलाट है, इससे भी रद्द कर दिया गया। प्रताप भवन के बाद टीम ने हुड़दंगबाजी की सूचना के आधार पर हर्ष भवन में भी छापेमारी की, लेकिन छापेमारी की सूचना मिलते ही हुड़दंग मचा रहे छात्र शांत हो गए और सभी अपने-अपने कमरों में चले गए। टीम ने रणबीर सिंह हॉस्टल में छापेमारी के दौरान शराब की खाली भरी हुई बोतलें बरामद की, जिसके चलते कमरों को रद्द कर ताला लगाया गया। कमरा नंबर 53 में खाली शराब की बोतलें और आउटसाइडर मिले। यह कमरा अभिनव के नाम अलाट था। कमरा नंबर-37 में शराब की खाली बोतलें और पांच आउट साइडर मिले। इस कमरे को रद्द कर दिया गया। कमरा नंबर-40 का छात्र सुनील भी कमरा नंबर-53 में पाया गया। जिस पर एक हजार रुपए जुर्माना किया गया।

अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं

केयूके चीफ वार्डन डॉ. सतदेव ने कहा कि अनुशासन हीनता किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि जिन कमरों में गड़बड़ मिली उन्हें तुरंत रद्द कर दिया गया। केयू प्रशास