पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • आओ गणेश नू मनाइये, सारे काम रास होण गे, भजनों पर मंत्रमुग्ध हुए श्रद्धालु

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आओ गणेश नू मनाइये, सारे काम रास होण गे, भजनों पर मंत्रमुग्ध हुए श्रद्धालु

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शहरमें गणपति महोत्सव धूमधाम से मनाया जा रहा है। श्रद्धालु भगवान गणेश का पूजापाठ तथा भजन संध्या आदि आयोजनों में भागीदारी दे रहे हैं। सोमवार को सोनीपत रोड पर महारानी वैष्णोदेवी मंदिर में आयोजित गणेश उत्सव में सुंदर झांकियांं निकली गई। शाम होते ही पंडाल एवं मंदिरों में गणपति के भजनों से वातावरण भक्तिरस मे डूब जाता है।

सोनीपत रोड पर महारानी वैष्णोदवी मंदिर में श्रद्धालुओं ने गणपति के भजनों का आनंद उठाया। सोमवार को मंदिर में सुबह विशेष रूप से गणपति पूजन किया गया तथा शाम को भजन संध्या का आयोजन किया गया। मंदिर में गणपति के जीवन पर आधारित झांकिया श्रद्धालुओं के लिए विशेष आकर्षण का केंद्र रही। सोमवार को महोत्सव में विजयपाल सिंह, विरेंद्र सिंह, वेदप्रकाश मेहता मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए। उन्होंने विघ्नहरता गजानन महाराज का पूजन किया। पूजन के बाद पंजाबी भजन आओ गणेश नू मनाईये, सारे काम रास होण गे, के भजन से पंडाल गुंजने लगा। मंदिर के पुजारी योगेश शर्मा ने बताया कि भगवान गणेश का सभी देवताओं से सबसे पहले पूजन किया जाता है। स्वयं देवता भी कोई काम आरंभ करने से पूर्व गणपति की वंदना करते हैं। गणपति की पूजा करने से धर्म, अर्थ, काम तथा मोक्ष आदि सुलभ हो जाते है। गणेश महोत्सव के दौरान गणपति की अराधना करने से भक्तों की हर मुराद पूरी होती है। इस अवसर पर अनिल मग्गो, विरेंद्र कुमार, महेंद्र थरेजा, विक्की बजाज, मंगल मलहोत्रा, गौरव, राजेश रावत, नीरज चुघ, सुभाष गुंबर, कृष्ण मेहता, रतन, विजय गांधी आदि उपस्थित थे।

गोहाना. सोनीपतरोड पर महारानी वैष्णोदेवी मंदिर में गणपति का पूजन करते हुए भक्तजन।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति पूर्णतः अनुकूल है। बातचीत के माध्यम से आप अपने काम निकलवाने में सक्षम रहेंगे। अपनी किसी कमजोरी पर भी उसे हासिल करने में सक्षम रहेंगे। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और...

    और पढ़ें