पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • सिसाय में कब्जा छुड़ाने गए अफसर लोगों के विरोध पर िफर बैरंग लौटे

सिसाय में कब्जा छुड़ाने गए अफसर लोगों के विरोध पर िफर बैरंग लौटे

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अदालतके निर्देश पर सिसाय में कब्जे छुड़वाने गए प्रशासन और पुलिस के अधिकारी लोगों के विरोध के बैरंग लौट आए। प्रशासन इससे पहले भी दो बार वापस लौट चुका है। इस बार पुलिस ने कार्रवाई का विरोध करने पर 50 से अधिक लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। फिलहाल किसी की गिरफ्तारी की सूचना नहीं है।

अदालत के निर्देश पर पुलिस और प्रशासन के अधिकारी सिसाय में एक बस्ती खाली कराने के प्रयास पहले भी दो बार कर चुके हैं, लेकिन ग्रामीणों के विरोध के चलते उन्हें हर बार बैरंग लौटना पड़ा। पुलिस और प्रशासन ने दोपहरबाद फिर कब्जे हटाने की कार्रवाई को अंजाम देने का प्रयास किया। प्रशिक्षु उपपुलिस अधीक्षक परमजीत समोता और थाना सदर के प्रभारी जगबीर सिंह की अगुवाई में भारी पुलिस बल को मौके पर भेजा गया। प्रशासन की तरफ से तहसीलदार साहिब राम बिश्नोई, अदालत द्वारा नियुक्त बेलिफ अन्य अधिकारी दल में शामिल थे। पुलिस बल जैसे ही गांव में पहुंचा, लोगों ने कब्जे हटाने की कार्रवाई का तीखा विरोध शुरू कर दिया। इस दौरान हाथापाई भी की गई। पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी लोगों के विरोध के चलते कब्जे हटाने की कार्रवाई को अंजाम नहीं दे सके। हालांकि इस दौरान अधिकारियों द्वारा लोगों को समझाने का भरपूर प्रयास किया गया, लेकिन लोग नहीं माने और कार्रवाई का विरोध करते रहे। लोगों के आक्रामक विरोध को देखते हुए पुलिस और प्रशासन के अधिकारी फिर बैरंग लौट आए। मामले की जानकारी प्रशासन के आला अधिकारियों को दी गई, जिसके बाद गांव के पचास से अधिक लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया। मामला बेलिफ की शिकायत पर दर्ज किया गया। थाना प्रभारी जगबीर सिंह ने बताया कि मामले में 12-13 लोगों को नामजद किया गया है। मामले में गांव के 35-40 अन्य लोगों को भी आरोपी बनाया गया है।

येहै मामला

सिसायमें 1200 गज जमीन पर बनी एक बस्ती को लेकर विवाद है। कुछ लोगों ने करीब तीन दशक पहले बस्ती बनाने के लिए जमीन को खरीदा, लेकिन इसकी रजिस्ट्री नहीं कराई गई। जमीन पर लोग बरसों से आबाद हैं और करीब दस परिवार बसर करते हैं। जमीन के मूल मालिक ने अदालत से मुकदमा जीता है और अदालत के निर्देश पर ही प्रशासन को जमीन खाली करवाकर मालिक को देने के निर्देश हैं। कब्जे हटाने की कार्रवाई का अन्य ग्रामीण भी विरोध कर रहे हैं।

सिसाय में कब्जे हटाने के िलए पुलिस के पहुंचते ही लोग जमा