• Hindi News
  • National
  • वेतन विसंगतियां दूर और कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने के लिए अनशन पर बैठ कर्मचारी

वेतन विसंगतियां दूर और कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने के लिए अनशन पर बैठ कर्मचारी

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सर्वकर्मचारीसंघ से जुड़े कर्मचारियों ने मांगों की पूर्ति के लिए बुधवार को उपायुक्त कार्यालय पर सामूहिक धरना दिया। यहां विभिन्न विभागों में कार्यरत कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने की मांग की गई। साथ ही कच्चे पक्के कर्मचारियों ने एक दिवसीय सांकेतिक भूख हड़ताल की। बाद में सभी ने तहसीलदार नेहा सहारण को ज्ञापन सौंपा। आंदोलन की अध्यक्षता संघ के जिला प्रधान जयपाल गुढ़ा ने की संचालन राजेंद्र जुलाना जिला सचिव ने किया। प्रदेश सचिव जिला प्रधान ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा सिविल अपील-213 को समान काम के लिए समान वेतन देने के लिए न्यायमूर्ति जेएस खेहड़ एसए बोवडे की पीठ ने ऐतिहासिक निर्णय लेते हुए कहा कि कोई कर्मचारी दूसरे कर्मचारी के समान काम या जिम्मेदारी निभाता है तो उसे दूसरे कर्मचारी से कम वेतन नहीं दिया जा सकता। वहीं भूख हड़ताली कर्मचारियों ने समान काम समान वेतन पर हुए ऐतिहासिक फैसले को लागू करने की मांग की है।

लघु सचिवालय पार्क मे सर्व कर्मचारी युनियन के कर्मचारी मांगो को लेकर भूख हड़ताल पर बैठे।

मिड-डे-मिल वर्कर यूनियन हरियाणा जिला कमेटी की बैठक बुधवार को जिला प्रधान निर्मला की अध्यक्षता में हुई। बैठक का संचालन जिला सचिव सरोज दुजाना ने किया। बैठक में सरोज दुजाना ने कहा कि सत्ता में आने से पहले भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने का वायदा किया था। सरकार द्वारा पक्का करना तो दूर अब उन्हें सातवें वेतन आयोग का भी कोई लाभ नहीं मिला जबकि महंगाई की मार तो हमारे ऊपर भी पड़ती है। सरकार ने अन्य विभागों और परियोजनाओं में कार्य करने वाले कच्चे कर्मचारियों के मानदेय में भी बढ़ोतरी के संकेत दिए हैं। लेकिन मिड-डे-मिल वर्करों को छोड़ दिया है जिससे वर्करों में काफी रोष है। उन्होंने बताया कि सोमवार को जिला कार्यरत मिड-डे-मिल वर्कर श्रीराम पार्क में एकत्रित होकर सरकार खिलाफ प्रदर्शन करते हुए कृषि एवं पंचायत मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ के आवास पर जाकर अपनी मांगों का ज्ञापन सौंपेंगी। मीटिंग में बबली धौड़, रेखा खुंगाई, बबली बामडोला, सुरजमुखी, बिमला, सावित्री वर्करों ने भाग लिया।

खबरें और भी हैं...