पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • गलती की कॉलेज प्रशासन ने, भुगत रही हैं छात्राएं

गलती की कॉलेज प्रशासन ने, भुगत रही हैं छात्राएं

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
खानपुरविश्वविद्यालय एवं इसकी विभिन्न ब्रांचों के साथ-साथ खानपुर पॉलटेक्निकल विभाग में विभिन्न कोर्सों में दाखिला लेकर पढ़ने वाली दर्जनों छात्राओं को अभी तक बस पास उपलब्ध नहीं हुए हैं। जिसके कारण कॉलेज स्टाफ की गलती छात्राओं को भुगतनी पड़ रही है। कॉलेज स्टाफ बस पास के स्थान पर छात्राओं को कॉलेज प्रबंधन द्वारा प्रमाणित पत्र दिया हुआ है, जिसमें यह दर्शाया गया है कि यह छात्रा खानपुर पॉल्टेक्निकल की छात्रा है, और इसका बस पास अभी नहीं आया है। इसलिए इसे बस पास आने तक संबंधित रूट पर यात्रा की अनुमति दी जाए, लेकिन हरियाणा परिवहन विभाग ने इस तरह के किसी भी प्रमाण पत्र को मानने से इनकार किया हुआ है। ऐसे में छात्राओं को रोज-रोज टिकट चेकरों का सामना करना पड़ता है और शर्मिदंगी उठानी पड़ती है, लेकिन कॉलेज प्रशासन इस दिशा में गंभीर नहीं है। ऐसे में जो छात्राएं बगैर बस पास मिलती हैं उनके नियमों के मुताबिक दस गुणा किराया वसूलनें की योजना भी है।

क्याकहती हैं छात्राएं

खानपुरपढ़ाई करने जाने वाली छात्रा पूनम, संतोष, सीमा, पूजा का कहना है कि उन्होंने खानपुर विश्वविद्यालय में दाखिला लिया हुआ है और खरखौदा से खानपुर जाने वाली बस में वे रोजाना जाती है। कॉलेज प्रशासन को उन्होंने अपने बस पास बनवाने के लिए सभी विवरण दिया हुआ है।

प्रदेश सरकार ने छात्राओं को कॉलेज तक आने-जाने की मुफ्त बस पास सुविधा दी हुई है। उनके पास कॉलेज का आईडीकार्ड, फीस स्लिप भी है और कॉलेज द्वारा प्रमाणित पत्र भी होता है, लेकिन टिकट जांचने वाले इनकों नहीं मानते। ऐसे में छात्राओं को परेशान होना पड़ रहा है और रोड़वेज कॉलेज प्रबंधन की कमी के कारण सुविधा होते हुए भी छात्राओं को पैसे देकर स्कूल, कॉलेजों का तक जाना पड़ रहा है।

वहीं पॉलटेक्निकल विभाग खानपुर के अकाउंटेंट राजबीर सिंह का कहना है कि छात्राएं उनके यहां अपनी डिटेल फोटों लेकर नहीं आती, जिसके कारण उनके बस पास नहीं बन पाते। संस्थान छात्राओं के साथ है तथा उनकी परेशानी को प्राथमिकता पर दूर करने का पुरजोर प्रयास रहेगा।

मुफ्त बस पास मामला

हम 24 घंटे के अंदर उपलब्ध करा रहे हैं बस पास

^प्रदेशसरकार की योजना के मुताबिक हम छात्राओं को 24 घंटे में बस पास उपलब्ध करा रहे हैं, लेकिन सैकड़ों छात्राऐं बगैर पास हैं, उन पर हर हाल में नियमों के मुताबिक पकड़े जाने पर जुर्माना वसू