पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • स्वच्छता अभियान में मीट विक्रेता बाधा

स्वच्छता अभियान में मीट विक्रेता बाधा

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
केंद्रराज्य सरकार स्वच्छता अभियान चलाकर जन-जन को स्वस्थ्य रखने के भरसक प्रयास कर रही है, वहीं खरखौदा के मटिंडू चौक पर मीट विक्रेता सभी नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए स्वच्छता अभियान में बाधा बनने का काम कर रहे हैं। नियमों के मुताबिक मीट को शीशाबंद दुकान में रखना तो दूर है बस्ती के बीच सड़क पर मीट परोसा जा रहा है। जिससे

बस्तिवासियों राहगीरों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इस मटिंडू चौक पर छिन्नौली मटिंडू गांव का स्टैंड भी है। जहां पर ग्रामीण सवारी का इंतजार करते हैं। यहां पर राहगीरों को इंतजार करने में भी परेशानी होती है। खेद की बात तो ये है कि इस बारे में कई बार नगरपालिका को शिकायत दी है, लेकिन समस्या का हल अभी तक नहीं निकल पाया है।

मानकोंपर खरे नहीं है मीट विक्रेताओं की शॉप

स्वास्थ्यविभाग के मानकों के मुताबिक मीट विक्रेताओं को अपना सारा सामान शीशीबंद रखना होता है ताकि धूल मिट्टी पहुंचे। बासी मांस हो। आसपास पूरी साफ सफाई होनी चाहिए। नियमों के मुताबिक ये दुकानें बस्ती आबादी क्षेत्र से दूर होनी चाहिए, लेकिन ये मीट विक्रेता सारे नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए स्वचछता अभियान को ठेंगा दिखा रहे हैं। जिन्हें किसी भी तरह की जांच कार्रवाई का कोई भय नहीं है।

डीसीसे करेंगे शिकायत

वार्डवासीसुनहेरी, ममता, सुनीता, पूजा, सुशीला का कहना है कि मटिंडू मार्ग के मुख्य रास्ते एवं आबादी के बीच मीट की दुकानें केवल गंदगी फैला रही है बल्कि मीट के छोटे-छोटे टुकड़े चील कौए उठाकर घरों में डाल रहे हैं। जिससे बीमारियां फैलने का अंदेशा बना हुआ है। उन्होंने कहा कि मटिंडू मार्ग पर स्वच्छता अभियान के मद्दे नजर मीट की दुकानों को शिफ्ट किया जाना चाहिए। ताकि स्वच्छता बनाए रखने में कदम बढ़ाए जा सकें। इस मांग को लेकर वार्ड वासी जिला उपायुक्त को भी शिकायत करेंगे।