पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • जो बोले सो निहाल, सत श्री अकाल के लगे जयघोष

जो बोले सो निहाल, सत श्री अकाल के लगे जयघोष

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पातशाहीगुरु नानक जयंती गुरुवार को धूमधाम से मनाई गई। स्टेशन के पास ढाणी स्थित में गुरुद्वारे में पूरे दिन सबद कीर्तन भंडारा लगाया गया। सिखों के प्रथम गुरु गुरु नानक देव जी के 546वें प्रकाशोत्सव पर शहर में शोभा यात्रा का आयोजन किया गया।

इस शोभा यात्रा की शुरुआत ढाणी स्थित गुरुद्वारे से शुरू होकर परशुराम चौक, खादी चौक, अपोलो चौक, रेलवे रोड, भगत सिंह चौक से लक्ष्मी सिनेमा होती हुई पंजाबी चौक स्थित गुरुद्वारे पहुंची। इस मौके पर सिख संगत द्वारा शोभा यात्रा में स्कूली बच्चों द्वारा आकर्षक झांकियां पालकी के आगे महिलाएं झाड़ू लगाती हुई आकर्षण का केंद्र बनी थी। इस दौरान सिख युवकों द्वारा अपने पारंपरिक करतब दिखाए गए। शोभा यात्रा में आतिशबाजी बैंड-बाजे अपनी छटा बिखेर रहे थे। बाजार में गुरु नानक जयंती के अवसर पर श्रद्धालुओं द्वारा जगह-जगह पानी की छबीलें लगाई गई।

निकालीप्रभात फेरी,खीर फल किए वितरित

यात्राके साथ चलने वाले लोगों को हलवे, खीर तथा फल का प्रसाद वितरित किया गया। इस मौके पर शहर को फूलों की लड़ियों से सजाया गया। इससे पूर्व लगभग 10 दिन से गुरु जयंती के उपलक्ष्य में प्रभात फेरी निकाली जाती थी, जो अलसुबह 4 बजे ढाणी स्थित गुरुद्वारे से चलकर शहर के मुख्य मार्गों से होती हुई पंजाबी स्थित गुरुद्वारे पहुंचती थी। शोभा यात्रा में छोटे-छोटे बच्चे पंज प्यारों के वेशभूषा में सजे हुए थे। जो शोभा यात्रा को चार चांद लगा रहे थे। जिसमें भारी संख्या में शहर की धार्मिक संस्थाओं के लोग सिख श्रद्धालुओं ने भाग लिया। इस शोभा यात्रा में भाग लेने के लिए आस-पास के क्षेत्रों के सिख संगत भी आई हुई थी।

दूसरी ओर गुरुद्वारा धमतान साहिब में भी गुरु नानक जयंती बड़ी धूमधाम से मनाई गई। इस मौके पर दूर-दूर से आए श्रद्धालुओं ने धमतान साहिब सरोवर में डुबकी लगाई तथा गुरु ग्रंथ साहब पर मत्था टेका। सिख साध-संगत द्वारा अटूट भंडारे का आयोजन किया गया, जिसमें श्रद्धालुओं ने लंगर चखा।

सफीदों. नगरकीर्तन के दौरान नृत्य प्रस्तुत करते स्कूल के विद्यार्थी।

नरवाना. गुरुनानक जयंती पर लंगर चखते श्रद्धालु।

सफीदों | सिखोंके प्रथम गुरु श्री गुरु नानक देव जी के 546वें प्रकाशोत्सव पर गुरुवार को कस्बे के प्रसिद्ध गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा सफीदों की ओर से विशाल नगर कीर्तन का आयोजन किया गया। इसमें हजारों हिंदू सिख