पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • चुहड़माजरा की महिलाओं ने गांव में साफ सफाई रखने की शपथ ली

चुहड़माजरा की महिलाओं ने गांव में साफ-सफाई रखने की शपथ ली

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
फरलसाईंबाबा मंदिर की धर्मशाला में ग्रामीण युवती विकास मंडल चुहड़माजरा द्वारा स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत नाबार्ड के सहयोग से कार्यक्रम हुआ। इसकी अध्यक्षता संस्था के संयोजक प्रदीप कुमार ने की। कार्यक्रम में मुख्यातिथि के रूप में केनरा बैंक फरल के शाखा प्रबंधक नरेश गोयल वशिष्ठ अतिथि के रूप में डीडीएम नाबार्ड आशुतोष सरदाना ने भाग लिया। नरेश गोयल ने कहा कि जिस स्थान पर सफाई रहती है वहां देवता निवास करते है। सफाई से वातावरण शुद्ध रहता है और गंदगी से फैलने वाली बीमारियों से बचाव होता है। उन्होंने उपस्थित महिलाओं को सफाई रखने के लिए भी शपथ दिलवाई।

संस्था की कार्यकर्ता सुनीता देवी ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का संदेश देते हुए कहा कि आज लिंगानुपात होने की वजह से समाज में अस्थिरता पैदा हो रही है। इसका सबसे मुख्य कारण भ्रूण-हत्या है। भ्रूण-हत्या जैसे पाप को जड़ से मिटाने में मुख्य भूमिका महिलाएं ही निभा सकती है। महिला चाहे तो कभी भी भ्रूण-हत्या जैसा जघन्य अपराध हो ही नहीं सकता है। लड़कियों को उच्चशिक्षा के प्रति जागरूक करते हुए उन्होंने कहा कि एक शिक्षित लड़की दो-दो परिवारों का उदार कर देती है। बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ और स्वच्छता के संदेश को घर-घर तक पहुंचाने के लिए गांव में एक जागरूक रैली निकाली गई। इसे मंदिर परिसर से शाखा प्रबंधक और डीडीएम नाबार्ड ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। रैली गांव की मुख्य गलियों से होते हुए वापस मंदिर पहुंची। इस दौरान महिलाओं ने लोगों को जागरूक करने संबंधी हाथों में स्लोगन नारे लिखे बैनर उठाए हुए थे। इस अवसर पर कृष्णा देवी, सरोज देवी, मुन्नी देवी, खजानी देवी, शशीबाला, बहोती, पुष्पा देवी और रीना देवी मौजूद थी।