पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • कलोठा में गलघोंटू से पीड़ित 13 दुधारू पशुओं की मौत

कलोठा में गलघोंटू से पीड़ित 13 दुधारू पशुओं की मौत

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
रतिया | गांवकलोठा में गलघोंटू रोग से पीड़ित 13 दुधारू पशुओं की मौत हो गई। इससे संबंधित पशुपालक परेशान हैं। वे अपने अन्य पशुओं के बचाव के लिए झाड़ फूंक के टोटकों का इस्तेमाल करने के साथ साथ उपचार भी करवा रहे हैं। पशुओं के मरने की सूचना जब पशुपालन विभाग को हुई तो विभाग की टीम मौके पर पहुंची। गलघोंटू रोग से जिन पशुपालकों के पशुओं की मौत हो चुकी है उनमें लेखराज की 3 भैंसें, किशन चंद की 2 भैंसें, लक्ष्मण, अंग्रेज, मिलखराज, प्रेम चंद, पूर्ण चंद और गोधा राम की एक एक भैंस के अलावा दो आवारा गायों बछड़ी शामिल हैं। कुछ अन्य पशु भी गलघोंटू से पीड़ित हैं। पशुपालकों बनवारी लाल, मंगत, सुरजीत, सुनील, हजारा राम और लाभ सिंह ने बताया कि इस गलघोंटू रोग होने से पशु का गले में साेछन जाती है। इसके अलावा उसे 104 से लेकर 107 डिग्री तक का बुखार हो जाता है जिससे पशु में कमजोरी होने लगती है और वह लडख़ड़ा कर नीचे गिर जाता है। थोड़ी देर बाद उसकी मौत हो जाती है।