• Hindi News
  • कुरुक्षेत्र से आने वाली आवाज को बंद करे सरकार

कुरुक्षेत्र से आने वाली आवाज को बंद करे सरकार

6 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
छोटूरामसंग्राहलय में रविवार को जाट आरक्षण को लेकर हुई जाट स्वाभिमान रैली में रोहतक, झज्जर और सोनीपत के खाप प्रतिनिधि अपने काफिलों के साथ रैली स्थल पर पहुंचे। सभी प्रधानों ने आरक्षण को लेकर खट्टर मोदी सरकार के प्रति नाराजगी दिखाई। रैली की अध्यक्षता अहलावत खाप के प्रधान जयसिंह ने की। रैली में अधिकतर वक्ताओं ने कुरुक्षेत्र से भाजपा सांसद राजकुमार सैनी के प्रति जाटों के खिलाफ बोलने को लेकर रोष जाहिर किया।

दहिया खाप के प्रधान सुरेंद्र सिंह ने कहा कि यह बात फैलाई जा रही है कि जाट एक नहीं हैं। ये लोगों की भूल है। जाट नेता अलग-अलग जगह जरूर धरने दे रहे हैं, लेकिन मिशन सभी का एक है जाटों को आरक्षण मिले। उन्होंने कहा कि कुछ लोग जाटों के खिलाफ बोल रहे हैं, वे किसी के भाई नहीं हैं। मलिक खाप के प्रधान बलजीत सिंह ने कहा कि हम हर कुर्बानी को तैयार हैं, लेकिन संयम से लड़ाई लड़ें, हिंसा होने दें। कुलदीप ने कहा कि इस आरक्षण की लड़ाई में युवा शक्ति को आगे लाएं। राठी रुहिल खाप के प्रधान तस्वीर सिंह ने कहा कि जाट देश की सुरक्षा में जान गंवाते हैं, लेकिन सरकार उन्हें उनके हक से वंचित कर रही है। हुड्डा खाप के प्रधान धर्मबीर सिंह ने कहा कि सरकार अपने नेताओं की जुबान पर लगाम लगाएं, नहीं तो सरकार की ईंट से ईंट बजा देंगे।

दलाल खाप के प्रधान भूप सिंह ने कहा कि दलाल खाप आरक्षण को लेकर पीछे नहीं हटेगी। देशवाल खाप से उमेद सिंह ने कहा कि आखिरी दम तक अपने हक के लिए लड़ेंगे। नांदल खाप से महेंद्र सिंह ने कहा कि सांसद सैनी जाटों को भला बुरा कह रहे हैं, यह सहन नहीं होगा। महम चैबीसी से तुलसी ग्रेवाल ने कहा कि सरकार को चुनाव में जाटों की ताकत दिखाई जाएगी। अहलावत 84 खाप प्रधान हरदीप ने कहा कि युवाओं को जगाने की जरूरत है। रामकरण हुड्डा ने कहा कि जाट आरक्षण के लिए हर कुर्बानी को तैयार हैं। राष्ट्रीय महिला अध्यक्ष विनोद बाला ने कहा कि संघर्ष से ही हक मिलेगा। पूर्व विधायम उदय सिंह दलाल ने सांसद राजकुमार की तरफ इशारा करते हुए कहा कि कुरुक्षेत्र की तरफ से जो आवाज रही है वे किसी के हक में नहीं है।

सांपला में रविवार रात को नेशनल हाईवे 10 पर जाम लगाकर बैठे जाट प्रतिनिधि।

सांपला. नेशनलहाईवे पर जाम लगाने के बाद रात नौ बजे प्रदर्शनकारी जाटों के लिए खाना बनाते स्वयंसेवी।

सांपला में जाट स्वाभिमान रैली के दौरान मंच पर आंदोलन की चेतावनी देते विभिन्न खापों के प्रतिनिधि। जाम लगाने की घोषणा करने के बाद समर्थन नारेबाजी करते जाट।