पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • संस्कार ही हमें धर्म और संस्कृति से जोड़ते है: स्वामी सच्चिदानंद

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

संस्कार ही हमें धर्म और संस्कृति से जोड़ते है: स्वामी सच्चिदानंद

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
श्रीबिश्नोई सभा गुरु जंभेश्वर के 42वें स्थापना दिवस के अवसर पर छठे दिन व्यास पीठ से स्वामी सच्चिदानंद आचार्य ने श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए संदेश दिया। उन्होंने कहा कि गुरु जंभेश्वर ने जो संस्कार बताए हैं वे अत्यंत महत्वपूर्ण और व्यक्ति के जीवन स्तर को ऊंचा बनाए रखने के लिए काफी कारगर हैं।

श्री गुरु जम्भेश्वर भगवान ने बिश्नोई समाज सहित सभी लोगों को पारिवारिक मर्यादाओं और नैतिक मूल्यों के साथ जीवन जीने की अत्यंत सरल विधि उपलब्ध करवाई। प्रतिदिन स्नान करना अर्थात स्वच्छ शुद्ध रहना, नशा करना तथा जीव हिंसा करना, दैनिक जीवन को सारगर्वित बनाने का सबसे सरल उपाय बताया गया है। उन्होंने कहा कि संस्कार ही हमें धर्म और संस्कृति से जोड़ता है। व्यक्ति के जीवन में आने वाले विभिन्न संस्कारों का क्रमवार उल्लेख करते हुए उन्होंने नवजात के संस्कार को सर्वाधिक महत्व दिया। उन्होंने कहा कि यहीं से संस्कारों की नींव आरंभ होती है और यहीं से प्रेरित होकर बालक शेष जीवन को सुखमय बनाता है।

विवाह संस्कार तक आते-आते आचार्य श्री ने कहा कि गोधूली बेला में फेरे होने चाहिए और हवन के साथ विभिन्न संकल्पों को लेकर इस संस्कार को संपन्न करना चाहिए। उन्होंने बताया कि 30 दिन का सूतक और भारतीय नारी के लिए पांच दिन कोई पवित्र कार्य करने जैसे संस्कार अत्यंत महत्वपूर्ण है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति पूर्णतः अनुकूल है। बातचीत के माध्यम से आप अपने काम निकलवाने में सक्षम रहेंगे। अपनी किसी कमजोरी पर भी उसे हासिल करने में सक्षम रहेंगे। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और...

    और पढ़ें