पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • जिले के 12 गांवों में घट रहा लिंगानुपात बेटों की तुलना में आधी रह गई बेटियां

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जिले के 12 गांवों में घट रहा लिंगानुपात बेटों की तुलना में आधी रह गई बेटियां

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
लिंगानुपातसुधार में पूरे प्रदेश में अव्वल होने का बिगुल बजाने वाले सिरसा जिले में पिछले कुछ दिनों से लड़कियों का घटता लिंगानुपात जिला प्रशासन के लिए चिंतनीय हो गया है। खासतौर से जिले के 12 गांव ऐसे हैं जहां लड़के ज्यादा और लड़कियां कम जन्मी हैं। डीसी शरणदीप कौर बराड़ की ओर से संबंधित गांवों के सरपंचों को पत्र भेज कर लड़कियों के घटते लिंगानुपात को नियंत्रण में करने के प्रयास करने को कहा गया है।

यहांघट रहा लिंगानुपात

जिलेके गांव लखुआना, ढुढियांवाली, रघुआना, फूलकां, रत्ताखेड़ा, भादड़ा, फग्गू, मटदादू, महमदपुरिया, जोधपुरिया, केसूपुरा और उमेदपुरा में लड़कियों का लिंगानुपात घटता जा रहा है। इन गांवों के सरपंचों को डीसी शरणदीप कौर बराड़ ने पत्र भेज कर आगाह भी किया है कि अापके गांव में लड़कियों के लिंगानुपात में बराबर गिरावट रही है जो चिंता का विषय है। घटते लिंगानुपात पर नियंत्रण पाने के लिए हरसंभव प्रयास करने हैं। चूंकि भारत सरकार और राज्य सरकार की ओर से भी लड़कियों के घटते लिंगानुपात को लड़कों के बराबर लाने के लिए अथक प्रयास किए जा रहे हैं। स्वयं प्रधानमंत्री ने 22 जनवरी 2015 को पानीपत से ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ अभियान की शुरुआत भी की थी।

विभागने अभियान भी चलाए

हैरतकी बात तो यह है कि जिले में नहीं बल्कि पड़ोसी राज्य पंजाब और राजस्थान तक भी स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने लिंगानुपात में इजाफा करने के हरसंभव प्रयास किए हैं। टीमों ने संदिग्ध ठिकानों पर छापे मार कर भ्रूण लिंग जांच करने वाले गिरोह के सदस्यों को भी पकड़ा। इसके अलावा विभिन्न मेडिकल स्टोरों पर छापे मार कर वहां से गर्भपात कराने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली किटें और दवाएं भी बरामद की गई। इतना ही नहीं ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ का नारा देने वाली सरकार की नीतियों के तहत समय-समय पर जागरूकता कैंप लगा कर लोगों को लिंगानुपात में सुधार करने के लिए जागरूक भी किया जाता रहा है। नतीजतन, इस साल के शुरुआती दौर में तो लिंगानुपात बढ़ा लेकिन उसके बाद लिंगानुपात में गिरावट दर्ज होने लगी। यानि कहीं कहीं गड़बड़ी हो रही है। उस गड़बड़ी की तह में जाने से पता चला कि जिले के 12 गांव ऐसे हैं जहां लड़कियों का लिंगानुपात घट रहा है।

अगस्त माह में

लड़का लड़की

22 - 9

सरपंच मनजीत कौर ने कहा कि गांव में अगर लिंगानुपात कम है तो इसे सुधारने के लिए डीसी की ओर से जो दिशा-निर्देश आएंगे उसके मुताबिक अभियान चलाएंगे।

अगस्त माह में

अगस्त माह में

लड़का लड़की

लड़का लड़की

लड़का लड़की

21 - 9

2 - 1

8 - 4

डीसी ने हेल्प लाइन नंबर 9467270070, 7027831548 और 7027831549 जारी करते हुए उक्त गांवों के सरपंचों को कहा है कि उनके गांव में अगर कोई व्यक्ति भ्रूण लिंग जांच के बारे में सही सूचना देगा तो उसे एक लाख रुपये का ईनाम सरकार की ओर से दिया जाएगा और सूचना देने वाले का नाम भी गुप्त रखा जाएगा।

^डीसी की ओर से जिन 12 गांवों के सरपंचों को घटते लिंगानुपात को लेकर पत्र भेजा गया है उन गांवों में जांच कराने के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से टीमें गठित की जा रही हैं। उन टीमों में गांव के टीचर, आशा वर्कर और सरपंच को भी शामिल किया जाएगा। टीमें घर-घर जाकर जांच करेंगी। इसके अलावा भ्रूण लिंग जांच को लेकर भी संदिग्ध ठिकानों पर छापे मारे जाएंगे। लोगों को जागरूक भी किया जाएगा।\\\'\\\' डॉ.वीरेश भूषण, उप सिविल सर्जन, सिरसा

हरसंभव सुधार का प्रयास करेंगे

इसीतरह से अन्य गांव रत्ताखेड़ा, लखुआना, महमदपुरिया, जोधपुरिया, ढुढ़ियांवाली, केसूपुरा और उमेदपुरा के सरपंचों का भी यह कहना है कि वे गांव में लिंगानुपात बढ़ाने के लिए हरसंभव प्रयास करेंगे।

{पुख्ता सूचना देने वाले को मिलेगा एक लाख का ईनाम

सरपंच पृथ्वी सिंह ने कहा कि हमारे गांव में लड़कियों के घटते लिंगानुपात के बारे में हमें तो किसी ने पहले बताया नहीं। एेसी बात है तो इस बारे में डीसी के निर्देशानुसार काम करेंगे।

सरपंच बंसीलाल ने कहा कि लड़का या लड़की पैदा होना तो परमात्मा की देन है। लिंगानुपात सुधारने के लिए डीसी की ओर से जो निर्देश मिलेंगे उसके मुताबिक काम किया जाएगा।

सरपंच कुलविंद्र कौर ने कहा कि गांव में कुछ मेडिकल स्टोर पर गर्भ गिराने के लिए किट और दवा बेचते हैं, उनकी शिकायत भी की लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई।

अगस्त माह में

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- ग्रह स्थिति अनुकूल है। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और हौसले को और अधिक बढ़ाएगा। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी काबू पाने में सक्षम रहेंगे। बातचीत के माध्यम से आप अपना काम भी निकलवा लेंगे। ...

    और पढ़ें