पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • 10 करोड़ की जमीन को कब्जा मुक्त नहीं करा पा रहा निगम

10 करोड़ की जमीन को कब्जा मुक्त नहीं करा पा रहा निगम

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
वार्डनंबर-19 के पार्षद नीरज राणा डेढ़ साल से नगर निगम की जमीन को कब्जा मुक्त कराने के लिए हाथ पैर मार रहे हैं। पहले निगम अधिकारियों को शिकायत दी, लेकिन उस पर कुछ नहीं हुआ। इसके बाद निगम के उच्चाधिकारियों को शिकायत भेजी तो कार्रवाई के नाम पर कब्जाधारियों को नोटिस भेज दिया गया और किया कुछ नहीं। जब किसी अधिकारी ने पार्षद की बात पर गंभीरता नहीं दिखाई तो उसने शिकायत सीएम विंडो में दे दी। विंडो में शिकायत दिए दो माह हो गए हैं, लेकिन यहां भी शिकायत पर कोई गंभीरता किसी ने नहीं दिखाई। ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि जब पार्षद के कहने पर नगर निगम अपनी जमीन को कब्जा मुक्त नहीं करा पा रही है तो आमजन की शिकायतों पर क्या कार्रवाई की जाती होगी।

कोर्टने भी दिए हैं ऑर्डर : पार्षदनीरज का कहना है कि यह मामला कोर्ट में भी गया था। कोर्ट ने भी ऑर्डर दिए हैं कि नगर निगम जमीन को लीगल तौर पर कब्जा मुक्त कराए। पार्षद का आरोप है कि यह सब अधिकारियों की मिलीभगत से हो रहा है। उनका कहना है कि इस मैटर को वे निगम हाउस की मीटिंग में भी उठा चुके हैं, लेकिन इसके बाद भी सुनवाई नहीं हो रही है।

पार्ककम्यूनिटी सेंटर बन सकता है : सातहजार गज जमीन को कब्जा मुक्त करने पर यहां पर नगर निगम पार्क कम्यूनिटी सेंटर बना सकती है। जिससे स्थानीय लोगों को काफी लाभ होगा। मगर अधिकारी इस काम में सुस्ती दिखा रहे हंै।