पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • पेपर देने स्कूल गई दो छात्राओं का अपहरण, पार्क से मिली ड्रेस

पेपर देने स्कूल गई दो छात्राओं का अपहरण, पार्क से मिली ड्रेस

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
परिजनों ने स्कूल प्रबंधन पर लगाया लापरवाही का आरोप

प्रिंसिपल का कहना है कि स्कूल के बाहर बच्चों की जिम्मेदारी हमारी नहीं

भास्करन्यूज | जगाधरी

घरसेपेपर देने स्कूल गई दो छात्राएं गायब हो गईं। परिजनों ने अपहरण की आशंका जताई है। छात्राएं जगाधरी के सेंट थॉमस स्कूल में सातवीं कक्षा में पढ़ती हैं और दोनों ही फ्रेंड हैं। दो लड़कियों के अपहरण की सूचना मिलते ही जगाधरी में खलबली मच गई। सूचना पाते ही पुलिस मौके पर पहुंची और तलाश में जुट गई, देर शाम एसपी वेदप्रकाश गोदारा स्कूल में पहुंचे। स्कूल के बाहर और अंदर लगे सीसीटीवी फुटेज खंगालने में लगे रहे। लेकिन देर रात तक छात्राओं का कुछ पता नहीं चल पाया है। वहीं दोनों छात्राओं की ड्रेस स्कूल के पास स्थित विष्णु गार्डन के पार्क से मिली है।

छात्रा अंशिका के पिता कपिल मित्तल ने बताया कि उनकी बेटी और यमुनानगर के लक्ष्मी गार्डन की सुरभि रोजाना की तरह सेंट थामस स्कूल में गई थी, लेकिन देर शाम तक वह अपने घर वापस नहीं लौटी। बच्चियों के घर आने पर उन्होंने स्कूल पहुंचकर जानकारी ली तो स्कूल से बच्चियों के बारे में कुछ पता नहीं चल पाया। परिजनों ने स्कूल प्रबंधन पर आरोप लगाया है कि इस मामले में प्रबंधन की लापरवाही रही है। जब लड़कियां पेपर देने नहीं पहुंची तो स्कूल की तरफ से भी उन्हें कोई सूचना नहीं दी गई।

छात्राओं के अपहरण की सूचना मिलते ही पुलिस शहर का चप्पा-चप्पा छानने लगी। इस दौरान पुलिस को सूचना मिली की सेंट थॉमस स्कूल की ड्रेस विष्णु गार्डन के पार्क में पड़ी है। वहां पर जाकर देखा तो वह ड्रेस लड़कियों की थी। एसपी वेदप्रकाश गोदारा का कहना है कि एक व्यक्ति ने पुलिस को बताया कि दिन में दो छात्राएं पार्क में आई थी उन्होंने यहां पर अपनी ड्रेस बदली थी और यहां से निकल गई थीं।

एसपी वेदप्रकाश गोदारा का कहना है कि अपहरण का केस दर्ज कर लिया है। तलाश की जा रही है। स्कूल के अंदर और बाहर लगे सीसीटीवी की फुटेज देख रहे हैं। उम्मीद है फुटेज में से कोई सुराग मिल जाए। छात्राओं की ड्रेस पार्क से मिली है। पार्क के आसपास लोगों से पूछताछ कर रहे हैं कि छात्राएं कैसे यहां पर आई थीं और कौन उन्हें ले गया है।

हम जिम्मेदार नहीं : आनंद

स्कूलप्रिंसिपल आनंद कुमार का कहना है कि स्कूल के बाहर अगर किसी छात्रा के साथ कुछ होता है तो उसकी जिम्मेदारी स्कूल प्रबंधन की नहीं है। बच्चियों के लापता होने का कोई सवाल नहीं है।

2009 में हो चुकी है घटना

अग्रसेनचौक पर स्थित निजी स्कूल से दो छात्र गायब हो गई। इनकी तलाश में पुलिस को काफी कसरत करनी पड़ती थी। बाद में लड़कियों ने कहानी बनाई थी कि वे पांटवा साहिब घूमने गए थे।

पूरा शहर छान मारा लेकिन कुछ पता नहीं चला

अंशिकाके ताऊ ने बताया कि जब से पता चला कि अंशिका लापता हो गई तभी से तलाश में लगे हैं। शहर की हर कॉलोनी गली छान मारी है, लेकिन उनका कुछ पता नहीं चल पाया है। उनके रिश्तेदार और जानकारी देर रात तक बच्चियों की तलाश में लगे रहे, लेकिन उनका कुछ भी पता नहीं चल पाया है। अंशिका का पिता एलआईसी एजेंट है। वहीं सुरभि के भाई गौरव ने बताया कि उन्होंने हर जगह पता कर लिया है, लेकिन कोई सुराग नहीं लगा है। उसकी बहन का अपहरण हुआ है। उसका पिता बिजनेसमैन है।

जगाधरी. सेंटथाॅमस स्कूल के प्रिंसिपल से उलझते छात्रा अंशिका सुरभि के परिजन

जगाधरी. सिटीजगाधरी थाने में पहुंचे परिजन शिकायत देते हुए।