• Hindi News
  • Every Year Is The 13th, Two Days Will Be Celebrated This Year Lohri

हर साल होती है 13 को, इस साल दो दिन मनाई जाएगी लोहड़ी

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

गुडग़ांव. लोहड़ी के त्योहार को लेकर जिलावासी असमंजस में हैं। आमतौर पर प्रति वर्ष लोहड़ी 13 जनवरी को मनाई जाती है लेकिन इस साल पंचांग के मुताबिक लोहड़ी 12 तारीख को बता रहे हैं। पंडित भी एकमत नहीं हंै। इसके चलते शहरवासी असमंजस में हंै। उधर बाजारों में लोहड़ी को लेकर चहल-पहल है।


पंडित नंद किशोर शास्त्री ने बताया कि प्रति वर्ष लोहड़ी 13 जनवरी और मकर संक्रांति 14 जनवरी की होती है। लेकिन इस साल 13 जनवरी शाम 7.40 के आस-पास सूर्य मकर में आ जाएगा। इस कारण लोहड़ी 12 की पड़ेगी। चूंकि सूर्य मकर में रात्रि को आएगा जबकि मकर संक्रांति सूर्योदय के बाद मनाई जाती है।

इस लिहाज से मकर संक्रांति 14 को होगी। ज्योतिष विचार स्वरूप ने बताया कि मंकर संक्रांति से एक दिन पहले लोहड़ी पर्व मनाया जाता है। लेकिन इस साल पंचांग के मुताबिक लोहड़ी 12 और मकर संक्रांति 14 जनवरी की पड़ रही है।

वहीं सेक्टर-52 के ज्योतिष विजय शर्मा बताते हैं कि चूंकि मकर संक्रांति की पूर्व संध्या को ही लोहड़ी होती है इसलिए लोहड़ी 13 को ही मनाई जाएगी। सेक्टर-5 निवासी मनोज ने बताया कि नवविवाहित बेटे-बहू की पहली लोहड़ी है।


पंडित इस बार लोहड़ी 12 को बता रहे हैं, इसलिए घर पर 12 को ही फंक्शन रखा है। 4-8 मरला निवासी सुरभि ने बताया कि पंडितों के अनुसार लोहड़ी 12 को मनाएंगे। उधर डीएलएफ की कई सोसायटीज में लोहड़ी 13 को मनाई जाएगी। वाटिका सिटी, रेल विहार, पार्क व्यू, जैसी कई सोसायटीज में लोहड़ी रविवार यानी 13 जनवरी को ही मनाई जाएगी।

सोहना रोड पार्क व्यू निवासी मोनिका ने बताया कि उन्हें पता चला है कि लोहड़ी 12 जनवरी को है लेकिन उनकी सोसायटी में 13 जनवरी को ही लोहड़ी होगी। वाटिका निवासी मीता का कहना है कि हर साल लोहड़ी 13 जनवरीं को होती है लेकिन इस साल कुछ 12 जनवरी को बता रहे हैं। इसलिए दोनों दिन ही सेलिब्रेट कर लेंगे।