रेवाड़ी में दलितों के मंदिर में जाने को लेकर विवाद, पुलिस की मौजूदगी में चढ़ाई कांवड़

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
डहीना/पानीपत. गांवढाणी ठेठरबाद में शुक्रवार को शिवरात्रि पर कांवड़ चढ़ाने को लेकर तनाव हो गया। सवर्ण बाहुल्य गांव में डाक कांवड़ लेकर आए दलित समुदाय के युवकों ने कांवड़ पुलिस बल की मौजदूगी में चढ़ाई। इससे गुस्साए सवर्ण समाज ने मंदिर को खंडित करने का आरोप लगाकर गांव के बाहर बने मंदिर में पूजा पाठ किया। प्रशासन और ग्राम पंचायत ने इस विवाद को खत्म करने का प्रयास किया, लेकिन बात सिरे नहीं चढ़ पाई। 
 
- गांव में कुछ माह पहले शिव मंदिर बना है। पहली बार सवर्ण और दलित समाज के युवक डाक कांवड़ लेकर गांव में पहुंचे थे। इससे पहले कांवड़ गांव बाघोत के प्राचीन शिव मंदिर में चढ़ती थी। गुरुवार रात को ही सवर्ण समाज के कुछ लोगों ने दलित परिवारों को चेतावनी दी थी कि वे शिव मंदिर में कांवड़ नहीं चढ़ाएंगे।
- दलितों ने सूचना पुलिस को दी। पुलिस गांव में पहुंच गई। शुक्रवार सुबह पुलिस की कड़ी सुरक्षा के बीच दलित युवकों ने मंदिर में कांवड़ चढ़ाई। इसे सवर्ण समाज के लोगों में रोष है। उन्होंने कहा कि इससे मंदिर खंडित हो गया। इसलिए हम पूजा अर्चना गांव के बाहर खेताें में बने मंदिर में करेंगे।
- डीएसपी सतपाल सिंह ने कहा कि स्थिति पूरी तरह से कंट्रोल में है। दोनों समुदाय के मौजिज लोगों के सहयोग से इस विवाद को खत्म कर दिया जाएगा। 
खबरें और भी हैं...