• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Panipat
  • प्लास्टिक की गठरी में गुरमीत को बांधकर डाले थे पत्थर ताकि ऊपर आए, 9 घंटे की तलाशी, नहर में मिला शव

प्लास्टिक की गठरी में गुरमीत को बांधकर डाले थे पत्थर ताकि ऊपर आए, 9 घंटे की तलाशी, नहर में मिला शव

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शव सिविल अस्पताल के मुर्दाघर में रखवाया, आज रोहतक में होगा पोस्टमार्टम

पानीपत. गुरमीतकी हत्या के आरोपी (बीच में)महेन्द्रका मेडिकल कराया।

थर्मल. दिल्लीपैरलल नहर में गुरमीत का शव ढूंढ़ने के दौरान एकत्रित लोग।

22 जनवरी की रात गुरमीत रहस्यमय ढंग से लापता हो गए। दूसरे दिन परिजनों ने इसराना थाने में शिकायत दी। फिर परिजनों को पता चला कि गुरमीत महेंद्र की बेटी अंशुल से मिलने के लिए गया था। 25 जनवरी को अंशुल की संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई। अंशुल का ऑर्डियो रिकॉर्डिंग भी सामने आया। 27 जनवरी को परिजन एसपी से मिलने आए और गुरमीत की हत्या का संदेह जता कर जांच सीआईए को देने की मांग की। 29 जनवरी को महेंद्र की गिरफ्तार और गुरमीत की हत्या का खुलासा हो गया। बेटी की मौत पर अब भी संशय बना हुआ है। पुलिस उसकी मौत को आत्महत्या ही मान रही है। पुलिस को उम्मीद है कि आरोपी से पूछताछ के बाद मामला स्पष्ट हो जाएगा।

भास्कर न्यूज | पानीपत/थर्मल

इसरानाथाना क्षेत्र के भादड़ गांव में आठ दिन पहले 18 वर्षीय गुरमीत की बेरहमी से गला घोंटकर हत्या के बाद आरोपियों ने शव को ठिकाने लगाने के लिए पूरे इंतजाम किए थे। प्लास्टिक की गठरी में पहले उसका शव बांधा और साथ में पत्थर भी डाल दिए। जिससे शव नहर में ऊपर आए। बाद में गठरी को बिंझौल के पास नहर में फेंक गए।

नहरका पानी कम कराया, दर्जनभर गोताखोर लगे

रविवारको लड़की के पिता महेंद्र की गिरफ्तारी के बाद हुए इस खुलासे के दूसरे दिन सोमवार सुबह करीब आठ बजे गांव के सैकड़ों लोग नहर पर पहुंच गए। करीब एक दर्जन से अधिक गोताखोरों ने शव की तलाश की। नहर का पानी भी कम करवाया गया। करीब नौ घंटे की तलाशी के बाद गुरमीत का शव एनएफएल नाके के पास दिल्ली पैरलल नहर में मिल गया। शव को सिविल अस्पताल के मुर्दाघर में रखवाया गया है। मंगलवार को रोहतक में पोस्टमार्टम होगा। इधर, पुलिस ने सोमवार को आरोपी महेंद्र को कोर्ट में पेश कर पांच दिन का रिमांड मांगा। पुलिस को चार दिन का रिमांड मिला है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। उसकी प|ी अभी भी फरार है। आरोपी महेंद्र की बेटी की संदिग्ध हालात में मौत को पुलिस अब तक की जांच में आत्महत्या ही मान रही है।

22जनवरी की रात गुरमीत घर आया था

डीएसपीदेशराज ने बताया कि आरोपी महेंद्र ने पूछताछ में बताया कि 22 जनवरी की रात गुरमीत उसकी बेटी से मिलने घर आया था। दोनों बाथरूम में थे। इस दौरान महेंद्र पेशाब करने के लिए जाग गया। बाथरूम की अंदर से कुंडी बंद थी। पूछने पर अंदर से बेटी ने आवाज दी। थोड़ी देर बाद जब वह बाहर नहीं निकली तो उसने दोबारा गेट थपथपाया। तब लड़की ने कहा कि मेरी तबीयत खराब है, मां को बुला दो। इस पर मां को वहां बुलाया गया। मां के आते ही बेटी प्रेमी गुरमीत के साथ बाथरूम से बाहर गई। गुरमीत को देखते ही महेंद्र भड़क गया और उसको पीटना शुरू कर दिया। गुरमीत को पीटते हुए महेंद्र कमरे में ले गया और बेटी को मां दूसरे कमरे में पकड़ ले गई। महेंद्र ने कपड़े से गला घोंटकर गुरमीत की हत्या कर दी। इस वारदात में महेंद्र की प|ी भी शामिल थी।

गुरमीत उर्फ मीतू

गुरमीत का शव तलाशने के दौरान ग्रामीणों ने डीएसपी देशराज सीआईए-2 इंचार्ज को घेर लिया। गुरमीत के परिजनों ने आरोप लगाया कि पुलिस परिजनों के साथ मिली हुई है। अकेला महेंद्र शव को गांव से बिंझौल तक नहीं ला सकता है। डीएसपी ने भरोसा दिलाया कि किसी भी आरोपी को केस में नहीं छोड़ा जाएगा।

एसएचओ ने बताया कि आरोपी की निशानदेही के बाद बिंझौल में शव की तलाश के लिए मधुबन से गोताखोर बुलाए गए। कुछ प्राइवेट गोताखोर भी थे। करीब 15 गोताखोरों ने शव की नहर में तलाश की। नहर में पानी ज्यादा था, इसलिए अफसरों से स्वीकृति लेकर नहर का पानी कम करवाया गया। शाम करीब 5 बजे जहां आरोपियों ने शव को फेंका था। उसी से कुछ दूरी पर मिल गया।

इसराना थाना एसएचओ सुरेश पाल ने बताया कि हत्या के बाद आरोपियों ने शव को गठरी में बांधकर उसमें गुरमीत के दो मोबाइल और पत्थर डाल दिए। आरोपी महेंद्र की गांव में डेयरी है। दूध ले जाने वाली बाइक पर गठरी रखकर शव को बिंझौल के पास नहर में फेंका गया। वारदात में प|ी के अलावा और भी लोग शामिल हो सकते हैं। पुलिस महेंद्र से पूछताछ कर रही है। गुरमीत पांच बहनों में इकलौता भाई था।

गुरमीत के शव की तलाशी के दौरान सुबह नहर में पानीपत नंबर की एक स्पलेंडर बाइक मिली। जांच में पता चला कि बाइक 2014 में मतलौडा क्षेत्र से चोरी हुई थी। जिसका केस भी दर्ज हुआ था। बाइक मतलौडा अनाज मण्डी निवासी आरती पुत्री प्रदीप के नाम है। दोपहर में सूचना मिली कि खूबड़ू गांव के पास डेडबॉडी मिल गई। सभी लोग खूबडू़ पहुंच गए। यहां पर डेडबॉडी किसी ओर की निकली।

खबरें और भी हैं...