महिला ने महंत और उसके चेलों पर लगाया गैंगरेप का आरोप, आरोपी पक्ष ने की जांच की मांग

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पानीपत। दुष्कर्मी डेरा प्रमुख गुरमीत सिंह राम रहीम का मामला अभी ठंडा नहीं हुआ था कि पानीपत में एक विधवा महिला ने सिठाना गांव स्थित अाश्रम के महंत उसके चेलों पर अपहरण कर डेरा पर ले जाकर गैंगरेप करने का आरोप लगाया है। पुलिस ने महिला की शिकायत पर 5 सितंबर को महंत सहित सात लोगों के खिलाफ अपहरण, गैंगरेप, मारपीट अन्य धाराओं में केस दर्ज किया है। बुधवार को इस मामले को झूठा बताकर गांव की पंचायत ने डीएसपी से मिलकर मामले की निष्पक्ष जांच करने की मांग की। ग्रामीणों का कहना है कि महंत की उम्र करीब 80 साल है। महिला ने रुपए ऐंठने के लिए झूठा केस दर्ज करवाया है। 
 
कुलदीप नगर की एक विधवा महिला ने आरोप लगाया है कि सिठाना गांव में आश्रम के महंत सुखानंद ने चेलों से उसका किडनैप करवाकर सिठाना गांव स्थित डेरे पर ले गए।
आरोप है कि महंत ने अपने चेलों के साथ मिलकर उसके साथ रेप किया। विरोध करने पर महिला के साथ मारपीट की गई और किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी। 
महिला ने मॉडल टाउन थाना में डेरे के महंत सुखानंद महाराज, कृष्ण, गुलाब, राकेश, मोजी, शीला सिकंदर के खिलाफ केस दर्ज कराया है। अब तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई। 
मॉडल टाउन थाना प्रभारी अमित कुमार ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। सच्चाई के हिसाब से कार्रवाई की जाएगी।
 
 सिठाना सरपंच सतपाल सिंह के नेतृत्व में गांव के लोग बुधवार को डीएसपी देशराज से मिले और केस की निष्पक्ष जांच की मांग की। सरपंच ने बताया कि महंत पर लगाए गए दुष्कर्म के आरोप निराधार है। महिला ने पैसे हड़पने के लिए झूठा केस दर्ज करवाया है। डीएसपी देशराज से मिलकर केस को कैंसिल करने महिला के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की मांग की गई है। सरपंच ने बताया कि महिला ने पहले भी महंत के खिलाफ सीएम विंडो पर शिकायत दी थी। जो पुलिस तफतीश में झूठी पाई गई। 
 
4 एकड़ में बना है आश्रम 
सिठाना गांव में महंत का आश्रम वर्ष 1992 से चला रहा है। उस दौरान ग्राम पंचायत ने आश्रम के लिए 4 एकड़ जमीन महंत को दी थी। इस आश्रम में करीब 10 कमरे एक बड़ा हाल मंदिर बना हुआ है। आश्रम में करीब 10 गाय है। यहां इलाज के लिए दूरदराज से लोग आते है।
खबरें और भी हैं...