पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Railway Minister, People Expect To Find The New Train Shed Chandigarh

रेल मंत्री से लोगों को उम्मीद, चंडीगढ़ के बहाने ही मिल जाए नई ट्रेन

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

पानीपत. हर साल की तरह इस साल भी पानीपत के लोगों को रेल बजट से काफी उम्मीद है। सभी को लग रहा है कि इस बार रेल मंत्री पवन कुमार बंसल के खजाने से उनके लिए भी कुछ निकलेगा। इसकी खास वजह भी है। रेल मंत्री चंडीगढ़ से हैं।

इससे पहले के रेल मंत्री उत्तर भारत के बजाय बिहार या पश्चिम बंगाल के रहे हैं। इसी कारण शहर के लोगों को लगता है कि बंसल अगर चंडीगढ़ तक के लिए भी कुछ करेंगे तो उसमें पानीपत के हिस्से कुछ न कुछ जरूर आ जाएगा।


किसी को लंबे रूट की ट्रेन तो किसी को पैसेंजर चाहिए
1. पानीपत औद्योगिक नगरी होने के कारण उद्योगपतियों को हर राज्य में जाना पड़ता है। लेकिन यहां से केरल, त्रिवेंद्रम, बेंगलुरू, तिरुपति व रामेश्वरम् जैसी जगहों पर ट्रेन न जाने से उन्हें काफी परेशानी उठानी पड़ती है। वहीं, पूजा एक्सप्रेस, स्वर्ण शताब्दी व शताब्दी जैसी ट्रेनों के ठहराव की मांग भी वर्षों से की जा रही है। बुलेट और मेट्रो ट्रेन की आस है।

2. जींद से रोहतक वाया पानीपत के बीच चलने वाली पैसेंजर ट्रेनों की समय सारणी बदलने को लेकर दैनिक यात्री कई बार रेल मंत्री को पत्र लिख चुके हैं। दैनिक यात्री संघ के प्रधान सतबीर पांचाल ने कहा कि इस रूट पर छह पैसेंजर ट्रेन चलती हैं। लेकिन एक भी ऑफिस के समय पर नहीं आती। जिसके कारण यात्रियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है।


3. पानीपत रेलवे स्टेशन को वर्ष 2009-10 में मॉडल स्टेशन घोषित किया गया था, लेकिन तीन वर्ष बीतने के बाद भी स्टेशन पर यात्रियों को कोई सुविधा नहीं मिल रही। इसके अलावा रेलवे ने पानीपत से मेरठ और हरिद्वार लाइन की घोषणा भी की थी, लेकिन इन लाइनों को बनाने के लिए विभाग की ओर से आज तक सर्वे तक नहीं कराया गया।


4. यहां का ओपीडी व डायग्नोस्टिक सेंटर बनने के बाद से ही डॉक्टरों की राह देख रहा है। पानीपत स्टेशन से प्रतिदिन 25 हजार के लगभग यात्री सफर करते हैं। लेकिन इसके बाद भी यहां पर मूलभूत सुविधाओं का अभाव है। मेट्रो ट्रेन के लिए साल भर से सुन रहे हैं। इस पर काम शुरू हो जाए तो लोगों का दिल्ली और आसपास जाने के लिए सफर और आसान हो जाएगा।