• Hindi News
  • Haryana
  • Panchkula
  • संस्कृत विद्वानों को जॉब दिलाने में श्रीमाता मनसा देवी श्राइन बोर्ड करेगा मदद
--Advertisement--

संस्कृत विद्वानों को जॉब दिलाने में श्रीमाता मनसा देवी श्राइन बोर्ड करेगा मदद

Panchkula News - हरियाणा गवर्नमेंट की सभी गवर्नमेंट स्कूलों में संस्कृत सब्जेक्ट शुरू करने की योजना है। इसके लिए स्टेट के सभी...

Dainik Bhaskar

Mar 20, 2017, 03:00 AM IST
संस्कृत विद्वानों को जॉब दिलाने में श्रीमाता मनसा देवी श्राइन बोर्ड करेगा मदद
हरियाणा गवर्नमेंट की सभी गवर्नमेंट स्कूलों में संस्कृत सब्जेक्ट शुरू करने की योजना है। इसके लिए स्टेट के सभी गवर्नमेंट स्कूलों के लिए करीब 12 से 15 हजार टीचर्स की जरूरत पड़ेगी। संस्कृत महाविद्यालय से कोर्स करने वाले स्टूडेंट्स को आसानी से रोजगार मिल सकेगा। श्रीमाता मनसा देवी श्राइन बोर्ड के सीईओ वीजी गोयल ने बताया कि उनका कहना है कि विदेशों में बने मंदिरों में संस्कृत विद्वानों की जरूरत होने की काफी डिमांड रही है। विभिन्न देशों में बने मंदिरों के प्रबंधक इसके लिए संपर्क करते रहते हैं। संस्कृत महाविद्यालय से कोर्स करने वालों में से कोई स्टूडेंट्स अगर विदेशों में बसने का इच्छुक होगा तो उसे वहां के मंदिरों में काम दिलाने में मदद की जाएगी। देश के अन्य मंदिरों में भी संस्कृत विद्वानों को जॉब दिलाने में श्रीमाता मनसा देवी श्राइन बोर्ड मदद देगा। सीईओ वी.जी. गोयल का कहना है कि संस्कृत महाविद्यालय की बिल्डिंग के निर्माण के लिए आगामी नवरात्रों में नींव पत्थर रख दिया जाएगा। बिल्डिंग के निर्माण में एक साल लगेगा। उनका कहना है कि बोर्ड की कोशिश है कि मार्च-अप्रैल, 2018 तक संस्कृत महाविद्यालय के लिए बिल्डिंग की कंस्ट्रक्शन पूरा हो जाए। वी.जी. गोयल का कहना है कि इतिहास साक्षी है कि भारत टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में प्राचीन काल से ही अन्य देशों से आगे रहा है। रामायण काल में पुष्पक विमान का जिक्र होता है जिसे इन दिनों हैलीकॉप्टर या एयरोप्लेन कहते हैं। भारतीय इतिहास ग्रंथ सब संस्कृत में हैं। अगर देश को दोबारा विश्व गुरु बनना है तो संस्कृत में लिखे वेद, ग्रंथ को जानना जरूरी है। इसमें सब समस्याओं का समाधान हैं। इसे जानने के लिए संस्कृत के विद्वान होने जरूरी है।

X
संस्कृत विद्वानों को जॉब दिलाने में श्रीमाता मनसा देवी श्राइन बोर्ड करेगा मदद
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..