पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • स्वराज का मकसद राजनीति में गंदगी साफ करना, सत्ता नहीं, पंजाब में नहीं लड़ेंगे चुनाव

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

स्वराज का मकसद राजनीति में गंदगी साफ करना, सत्ता नहीं, पंजाब में नहीं लड़ेंगे चुनाव

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
स्वराजअभियान के संयोजक योगेंद्र यादव ने राजनीति को लेकर भविष्य के एजेंडे को क्लियर कर दिया। उन्होंने कहा कि पंजाब में होने वाले चुनाव में उनका संगठन भाग नहीं लेगा। हमारा असल मकसद अब राजनीति में चुकी गंदगी को साफ करना है। गोमांस, आरक्षण जैसे संवेदनशील मसलों को लेकर जिस तरह हो-हल्ला मचाया जा रहा है वह गिरती राजनीति का उदाहरण है।

योगेंद्र यादव सोमवार को गांव बोहतवास अहीर के राव खेमचंद महाविद्यालय में चल रही तीन दिवसीय स्वराज कार्यशाला के दौरान पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि गोमांस का विवाद आजकल का नहीं 500 साल पुराना है। कायदे से दोनों पक्षों को बुलाकर समाधान का रास्ता निकालना चाहिए।

आरक्षण में सुप्रीम कोर्ट की गाइड लाइन को लागू करना चाहिए। विवाद यहीं खत्म हो जाता है। लेकिन जानबूझकर ऐसा नहीं करना ही राजनीति में शून्यता को दर्शाता है। यह लोकतंत्र के लिए सबसे बड़ा खतरा है। ऐसे में वैचारिक सोच बदलने से काम नहीं चलेगा। मन और आत्मा का प्रशिक्षण भी जरूरी है। इसलिए स्वराज अभियान देशभर में इस तरह के कैंप लगा रहा है। हिमाचल प्रदेश के पालमपुर से इसकी शुरुआत हो चुकी है। हरियाणा के अंबाला, गुड़गांव के बाद अब रेवाड़ी में चल रहे इस कैंप में चार जिले रेवाड़ी, गुड़गांव, मेवात फरीदाबाद के कार्यकर्ता प्रशिक्षण ले रहे हैं।

उन्होंने कहा कि राजनीति में आचार विचार संस्कार की जगह जातिवाद, सांप्रदायिकता, बाहुबलियों ने ली है। ऐसा कोई राजनीति दल इससे अछूता नहीं है। स्वराज का मकसद सत्ता में आना नहीं व्यवस्था परिवर्तन है। इसके लिए हम दीर्घकालीन योजनाओं पर काम कर रहे हैं। अभियान के राज्य सचिव एसपी सिंह ने कहा कि करनाल अब हमारा मुख्यालय होगा जहां हर माह इस तरह की वर्कशाप आयोजित होगी। थियेटर ऑफ रेलिवेंस के सृजक प्रयोगकर्ता मंजुल भारद्वाज ने कहा कि राजनीति में नीति को जिसने नहीं छोड़ा वहीं बेहतर राजनीतिज्ञ है। स्वराज राजनीति में दर्शन है जो मानस बदलने का काम कर रहा है। जब तक मनुष्य रहेगा, थियेटर रहेगा।

कार्यशाला: प्रतिभागी हुए जीवन और प्रकृति के विभिन्न पहलुओं से रूबरू

रेवाड़ी |स्वराज अभियानकी ओर से बोहतवास अहीर स्थित राव खेमचंद कॉलेज में चल रही स्वराज कार्यशाला में प्रतिभागियों काे जीवन और प्रकृति के विभिन्न पहलुओं से रूबरू कराया गया। सोमवार को मुख्य रूप से स्वराज अभियान संयोजक योगेंद्र यादव भी पहुंचे। उन्होंने अभियान की नीतियों के साथ ही मेवात जिले में हुई घटनाओं पर भी चर्चा की। कार्यशाला में ट्रेनर मंजुल भारद्वाज उनकी टीम ने प्रशिक्षण दिया। उन्होंने आंख बंद कर चुनौतीपूर्ण कार्य कराए और अनुभव कराया कि एक तरह के फॉर्मेट में ही हम चलते हैं, उससे अलग भी बेहतर अौर रोमांचक हो सकता है। इस तरह भी चीजों को सुलझाया जा सकता है। वहीं 20वीं सदी में की विचार धाराओं पर खुली चर्चा हुई तथा 21वीं सदी की राजनैतिक चुनौतियां और स्वराज अभियान की भूमिका पर भी विचार रखे गए। वहीं संगीत से चेतना को जगाना तथा प्रकृति के साथ जीवन जीने का संदेश भी खास रहा। इसके अलावा बड़ी उम्र में पांच साल के बच्चे की तरह व्यवहार का प्रैक्टिकल अभ्यास भी बेहद अलग रहा।

रेवाड़ी. बोहतवासअहीर स्थित राव खेमचंद स्कूल में चल रही स्वराज अभियान की कार्यशाला में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते योगेंद्र यादव।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय निवेश जैसे किसी आर्थिक गतिविधि में व्यस्तता रहेगी। लंबे समय से चली आ रही किसी चिंता से भी राहत मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए बहुत ही फायदेमंद तथा सकून दायक रहेगा। ...

    और पढ़ें