प्यार में कंजूसी और सिक्का!

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
एक बार एक कंजूस लड़के को एक कंजूस लड़की से प्यार हो जाता है।
लड़की, "जब पापा घर पर नहीं होंगे तो मैं गली में सिक्का फेंकूंगी, आवाज़ सुन कर तुम तुरंत अन्दर आ जाना।"
लेकिन लड़का सिक्का फेंकने के एक घंटे बाद आया।
लड़की, "इतनी देर क्यों लगा दी?"
लड़का, "वो मैं सिक्का ढूंढ रहा था।"
लड़की, "पागल वो तो धागा बाँध कर फेंका था, वापस खींच लिया।"