दुनिया का सबसे महंगा वॉरशिप, इस पर खड़े हो सकते हैं 75 एयरक्राफ्ट

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
न्यूपोर्ट. अमेरिका ने अपना सबसे महंगा और अल्ट्रा मॉडर्न वॉरशिप 'यूएसएस गेराल्ड आर फोर्ड' लॉन्च किया। इसकी लागत करीब 83,928 करोड़ रुपए (13 अरब डॉलर) बताई जा रही है। ये दुनिया का सबसे महंगा वॉरशिप है। इसका फ्लाइट डेक का आकार 5 एकड़ है, जिस पर एक समय में 75 एयरक्राफ्ट खड़े किए जा सकते हैं। वॉर के समय इस से रोज 220 उड़ानें भरी जा सकेंगी। इसके सिस्टम को लेजर किरणों से अपग्रेड किया जा सकेगा। गेराल्ड आर फोर्ड अमेरिका के निमित्ज-क्लास करियर को रिप्लेस करेगा, जो 51 साल की सेवा के बाद 2012 में रिटायर हो चुका है। 
 
दो साल की देरी से हो गया 16 हजार करोड़ रु. का नुकसान 
गेराल्ड आर फोर्ड की लॉन्चिंग 2015 में तय थी। तब बजट 67,788 करोड़ रु. था, पर लॉन्चिंग में दो साल की देरी हो गई। इससे लागत 16 हजार करोड़ रु. बढ़ गई। अमेरिका ऐसे तीन युद्धपोत बना रहा है। दो युद्धपोत 2020 और 2025 में लॉन्च होंगे। तीनों की कुल लागत 2.78 लाख करोड़ रु. (43 अरब डॉलर) आएगी। 
 
400 स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी के बराबर वजन 
1 लाख टन है युद्धपोत का कुल वजन। 1 स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी का वजन 225 टन। 
1 करोड़ फीट वायर का इस्तेमाल। पृथ्वी से इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन की दूरी से 10 गुना। 
1106 फुट लंबा है यह युद्धपोत। करीब 256 फीट चौड़ाई और 250 फीट ऊंचाई। 
4,660 कर्मचारी रह सकेंगे एक साथ। इसके अलावा 75 क्रू मेंबर हमेशा रहेंगे। 
15,000 लोगों का खाना रोज बनाया जा सकेगा इस युद्धपोत में एक बार में। 
 
आगे की स्लाइड्स में देखें इस वॉरशिप की फोटोज...
खबरें और भी हैं...