पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

वॉट्सऐप ने बदली पॉलिसी: कहा- FB को देंगे यूजर की इन्फॉर्मेशंस, पहले बोली थी- प्राइवेट डाटा शेयर नहीं किया जाएगा

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
वॉशिंगटन. सोशल मीडिया यूजर्स की प्राइवेसी खतरे में पड़ सकती है। वॉट्सऐप ने कहा है कि वह अपनी पैरेंट कंपनी फेसबुक से यूजर्स की इन्फॉर्मेशंस शेयर करेंगे। FB ने अपनी पहले की पॉलिसी उस को दरकिनार करने का फैसला किया है जिसमें कहा गया था कि यूजर्स का प्राइवेट डाटा शेयर नहीं किया जाएगा। क्या कहा था वॉट्सऐप ने...
- फेसबुक के एक्वायर करने के बाद वॉट्सऐप ने कहा था, 'हम यूजर की प्राइवेसी का ध्यान रखेंगे। ये हमारे डीएनए में है। हमने वॉट्सऐप इसलिए बनाया था कि लोग एक-दूसरे को जान सकें और आपकी प्राइवेसी भी सिक्योर रहे।'
- अब वॉट्सऐप ने अपनी ही पॉलिसी को चेंज कर दिया है। बदली पॉलिसी के तहत फेसबुक को वॉट्सऐप यूजर के फोन नंबर देखने का राइट होगा।
- इसके जरिए फेसबुक, दोनों जगह (फेसबुक-वॉट्सऐप) यूजर्स के शेयर डाटा पर नजर रख सकेगा। इससे FB को एडवरटाइज के लिए डाटा कलेक्ट करने के लिए मदद मिलेगी।
पॉलिसी चेंज पर वॉट्सऐप ने क्या कहा?
- वॉट्सऐप के मुताबिक, 'यूजर्स के लिए ये एक अच्छा एक्सपीरियंस होगा।'
- 'किसी मायने में ये थोड़ा परेशानी भरा भी हो सकता है क्योंकि वॉट्सऐप की प्राइवेट इन्फॉर्मेशन और मैसेज को ऐड की तरह यूज किया जाएगा। जो कि फेसबुक का प्राइमरी बिजनेस है।'
- साथ की वॉट्सऐप यूजर्स को ये भी यकीन दिला रही है कि उनकी प्राइवेट कम्युनिकेशन से छेड़छाड़ नहीं होगी। हम आपको फास्टेस्ट, रिलायबल और सिंप्लेस्ट फैसिलिटी देने के लिए कमिटेड हैं।
FB के वॉट्सऐप एक्वायर करने के बाद FTC ने तल्ख लेटर लिखा था
- 2014 में फेसबुक ने वॉट्सऐप का अधिग्रहण किया था।
- इसके बाद फेडरल ट्रेड कमीशन (FTC) के ब्यूरो ऑफ कंज्यूमर प्रोटेक्शन ने कई कंपनियों के तल्ख लेटर लिखा था जिसमें यूजर्स से किए गए वादे को निभाने (इन्फॉर्मेशन शेयर न करने) की बात कही गई थी।
- यह भी कहा था कि अगर ऐसा नहीं किया गया तो इसे ट्रेड पॉलिसीज का वॉयलेशन माना जाएगा और कंपनी को जांच का सामना करना पड़ेगा।
- इसके बाद फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने कहा था, 'वॉट्सऐप को लेकर हम कोई प्लान चेंज करने नहीं जा रहे। वॉट्सऐप यूजर्स की इन्फॉर्मेशंस सेफ रहेंगी।'

वॉट्सऐप-फेसबुक की हो सकती है मुसीबत
- FTC एक तरह से लॉ एन्फोर्समेंट एजेंसी है। वह पहले से रूल्स को फॉलो करने की बात कह चुकी है।
- इस मामले में एफटीसी ये पूछ सकती है कि वॉट्सऐप ने किसकी परमिशन से पॉलिसी बदली। जबकि 2014 में इसकी बात तक नहीं कही गई थी।
- एक एक्सपर्ट विलियम मैक्गेवरान के मुताबिक, 'अगर फेसबुक और वॉट्सऐप ने अपनी प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर FTC से कंसल्ट नहीं किया है तो ये उन पर भारी पड़ सकता है।'
आगे की स्लाइड्स में पढ़ें- विवाद से बचने के लिए वॉट्सऐप ने क्या रास्ता निकाला...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि वालों से अनुरोध है कि आज बाहरी गतिविधियों को स्थगित करके घर पर ही अपनी वित्तीय योजनाओं संबंधी कार्यों पर ध्यान केंद्रित रखें। आपके कार्य संपन्न होंगे। घर में भी एक खुशनुमा माहौल बना ...

और पढ़ें