• Home
  • India Union Budget 2018
  • India Union Budget 2018-19 for women, Aam Budget for Women, महिलाओं के लिए आम बजट
--Advertisement--

आम बजट 2018: महिलाओं के लिए खास होगा बजट, मिल सकता है बड़ा फायदा

वित्त वर्ष 2018-19 के लिए आम बजट 1 फरवरी को पेश किया जाएगा। जीएसटी लागू होने के बाद ये पहला बजट होगा।

Danik Bhaskar | Jan 04, 2018, 03:26 PM IST

वित्त वर्ष 2018-19 के लिए आम बजट 1 फरवरी को पेश किया जाएगा और अभी से इसकी तैयारियां शुरू हो गई हैं। जहां वित्त मंत्री अरुण जेटली बजट की तैयारियों में लगे हैं वहीं दूसरी ओर लोगों की भी उम्मीदें बढ़ी हुई हैं। इस बार बजट में हर वर्ग के लिए क्या खास होगा, ये तो जरूरी है ही, साथ ही इस बार महिलाओं और गृहणियों के लिए आम बजट 2018-19 में क्या स्पेशल होगा, इस पर भी नजर रहेगी।


जीएसटी के बाद मोदी सरकार का पहला आम बजट, इन चीजों पर रहेगी नजर

बजट 2017 में महिलाओं के लिए क्या था

पिछले बजट में सरकार ने महिलाओं को 'शक्ति' प्रदान की थी। उनके विकास और सुरक्षा के नाम पर करीब 1.84 करोड़ रुपए का बजट तय किया गया। यहां तक कि सस्ते घर उपलब्ध कराए गए। राशन की बढ़ती कीमतों पर भी लगाम लगाने की कोशिश कर महिलाओं को राहत देने की कोशिश की गई ताकि वो अपना घर चला सकें।


आम बजट 2018: हर बजट से पहले मंत्री खाते हैं हलवा और बेसमेंट में रहते हैं 'कैद', जानिए क्यों

एक महिला यही चाहती है कि उसका महीनेभर का घर और किचन का खर्च आराम से चले और यही उम्मीद इस बार भी आम बजट पर रहेगी। जहां पिछली बार सरकार ने यह कहकर 'सबका साथ सबका विकास महिलाओं और लड़कियों के साथ शुरू होता है', 1.84 करोड़ का बजट उनके विकास और सुरक्षा के लिए दिया था, इस बार हर महिला की आस अपने किचन के बजट से रहेगी। एक गृहणी को और क्या चाहिए।


आम बजट 2018: मिडिल क्लास को मिलेगी बड़ी राहत, 10 हजार की टैक्स छूट लिमिट बढ़ेगी

बजट 2018 से महिलाओं को उम्मीदें

  • सरकार को दाल, चीनी, चावल, गेहूं, फल, सब्जी, तेल जैसी राशन के सामान का उचित मूल्य तय करना चाहिए ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को फायदा हो।
  • इसके अलावा महिलाओं और लड़कियों की सुरक्षा के लिए पिछली बार से ज्यादा बजट तय किया जाए। सिर्फ तय ही नहीं बल्कि उसे लागू भी किया जाए और इस बात का ध्यान रखा जाए कि ग्रामीण इलाकों से लेकर शहरी इलाकों तक फायदा मिले।
  • जो महिलाएं और लड़कियां कामकाजी हैं उनके लिए अलग से पब्लिक ट्रांसपोर्ट और उसमें सुरक्षा मुहैया कराई जाए।
  • देर रात ऑफिस या कहीं आने जाने पर महिलाओं की सुरक्षा का ध्यान रखा जाए।
  • हो सके तो कुछ घरेलू चीजों के दाम निश्चित कर दिए जाएं क्योंकि कई दुकानदार मनमाफिक तरीके से दाल, तेल और चीनी जैसी चीजों के दाम वसूलते हैं।

आम बजट 2018: प्याज-टमाटर के दामों पर लगाम

वहीं आजकल प्याज और टमाटर के दाम आसमान छू रहे हैं। ऐसे में उम्मीद है कि सरकार इसे लेकर भी आम बजट में कुछ राहत देगी। मौजूदा आंकड़ों के मुताबिक, जहां प्याज 50 से 70 रुपए किलो बिक रहा है, वहीं टमाटर के रेट भी अलग-अलग हिस्सों में अलग हैं। खुद लोगों ने अब प्याज-टमाटर का इस्तेमाल कम कर दिया है। सलाद में जिन्हें प्याज खाने का शौक था, अब उन्हें भी इसके बिना गुजारा करना पड़ रहा है।

मांग उठ रही है कि जिन सब्जियों की कीमतें दिनोंदिन आसमान छू रही हैं उन्हें कंट्रोल में लाने के लिए सरकार बजट में कुछ अच्छी घोषणा करे और कदम उठाए।

वैसे अब देखना यह होगा कि आम बजट 2018-19 इस बार महिलाओं के लिए क्या खास लेकर आता है।