• Hindi News
  • National
  • उद्योग नहीं लगानेवाले 24 उद्यमियों की जमीन का आवंटन रद्द िकया जाएगा

उद्योग नहीं लगानेवाले 24 उद्यमियों की जमीन का आवंटन रद्द िकया जाएगा

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जमीनलेकर वर्षों से उद्योग नहीं लगाने वाले बीएमडब्ल्यू सहित 24 उद्यमियों के जमीन का आवंटन रद्द करने की कार्रवाई शुरु की गई है। बियाडा ने इन उद्यमियों को 10 साल पहले जमीन दी है, लेकिन वे उद्योग नहीं लगा रहे। इसलिए इनका आवंटन रद्द कर नए उद्योग लगानेवाले उद्यमियों को यह जमीन आवंटित की जाएगी। इसके पहले बियाडा प्रबंधन ने इन उद्यमियों को दो बार नोटिस भी भेजी है। अब तीसरी नोटिस देने की तैयारी चल रही है। इसके बाद उनका आवंटन रद्द कर दिया जाएगा। जमीन लेकर अभी तक उस पर उद्योग नहीं लगाने वाले बीएमडब्ल्यू, दिग्विजय एलॉय, मां काली पेपर मिल्स, दत्ता एलॉय, ईस्टर्न इंडिया तथा केस्ट्रॉल सहित 24 कंपनियों के नाम शामिल हैं। बियाडा में आज तक जितने भी उद्योग लगे हैं, उन सभी को संसाधनों की व्यवस्था खुद ही करनी है। फिर भी संसाधनों का रोना रोकर अभी तक उद्योग नहीं लगाए गए। इतना ही नहीं बहुत से उद्यमियों को बियाडा ने उद्योग चलाने के लिए जो ऋण दिए हैं वह भी नहीं चुकाया है। इन पर भी कार्रवाई करने की तैयारी चल रही है।

किस कंपनी को कितनी जमीन मिली

बीएमडब्ल्यूने करीब 10 साल पहले करोड़ों रुपए जमा कर 40 एकड़, मां काली पेपर मिल ने पांच साल पहले आठ एकड़, दिग्विजय एलॉय ने आठ एकड़, ईस्टर्न इंडिया ने आठ एकड़, दत्ता एलॉय ने आठ एकड़, केस्ट्रॉल ने आठ एकड़ जमीन ली है। इस प्रकार सिर्फ छह उद्यमियों ने ही लगभग 76 एकड़ जमीन ली है, जो वर्षों से बेकार पड़ी है।

बियाडा भवन।

59 उद्यमियों ने तो अभी तक सीड मनी भी जमा नहीं की है

^जिनउद्यमियों ने उद्योग के नाम पर जमीन लेकर उद्योग नहीं लगाया है, उन्हें जल्द ही तीसरी और अंतिम नोटिस भेज कर उनपर कार्रवाई होगी। इसके अलावा बियाडा में बहुत से उद्योग, बड़े कल कारखानों के भरोसे उद्यमियों ने लगाया था। जिनकी क्वालिटी निम्न होने के कारण उन्हें कार्यादेश मिलने बंद हो गए। ऐसे में बंद पड़े उद्योगों को चलाने के लिए बियाडा ने खुद 59 उद्यमियों को सीड मनी दी थी। अब तक इन उद्यमियों ने वर्षों से सीड मनी वापस नहीं की। उनपर भी कार्रवाई की जाएगी।’’ मनोजजायसवाल, सचिव, बियाडा, बोकारो।

खबरें और भी हैं...