पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • मिथिलांचल की परंपरागत सामा चकेवा को दी गई विदाई

मिथिलांचल की परंपरागत सामा चकेवा को दी गई विदाई

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
विगतएक सप्ताह से मिथिलांचल के घर-घर में महिलाओं के द्वारा परंपरागत रुप से मनाई जाने वाली सामा-चकेवा लोकपर्व का समापन गुरुवार को अत्यंत भाव-विह्वल रहा। मिथिला सांस्कृतिक परिषद द्वारा इस पर्व के समापन के निमित्त देर शाम सारी महिलाएं अपने-अपने सामा-चकेवा की डाला के साथ सेक्टर 4 स्थित परिषद प्रांगण में पहुंची, जहां परंपरा के अनुसार बहनों ने सामा-चकेवा को चूड़ा, दही, गुड़ मिठाई से मुंह जूठा कराया साथ ही देवी गीत सामा-चकेवा के गीतों से वातावरण को गुंजायमान किया। बोकारो वासी महिलाओं ने पिछले सप्ताह भर से मनाये जा रहे इस पर्व का समापन एक सुसज्जित समारोह के माध्यम से किया।

अपनी-अपनी तरह से अपने-अपने भाइयों और पुत्रों के नाम से गीत का गायन अनवरत चल रहा था। इसी बीच बहनों द्वारा अपने भाइयों का फांड बांधा गया, जिसमें उन्हें चूड़ा, गुड़, मिठाई आदि दिया गया। इसके बाद भाइयों ने घुटने के सहारे अपने हाथों से सामा-चकेवा सहित सभी निर्मित मूर्तियों को तोड़ डाला। फिर प्रारंभ हुआ विदाई गीत समदाओन। अपनी-अपनी डालाओं में दीप जलाकर उसे ले जोते गए खेत में उसे विसर्जन करने के लिए गीत गाती हुई चल पड़ीं। गीत की अलग-अलग विधा चौमासा, बटगवनी, समदाओन, उदासी आदि मिथिला की मिट्टी की याद दिलाने में सक्षम हो रही थी।

एक ओर जहां सुखद आनंद का अनुभव हो रहा था वहीं सामा-चकेवा की विदाई का दृश्य काफी गमगीन माहौल उत्पन्न कर रहा था। गीत गाते हुए निर्धारित खेत में पहुंच कर विसर्जित कर दिया। समापन समारोह में मिथिला एकेडमी पब्लिक स्कूल के अध्यक्ष रामाधार झा, मिथिला सांस्कृतिक परिषद के अध्यक्ष विजय कुमार झा, उपाध्यक्ष एस के सिंह, महासचिव हरि मोहन झा, बीएसएल के जीएम बीके ठाकुर, परिषद के पूर्व सचिव तुला नंद मिश्र, सतीश चंद्र झा सहित अरुण पाठक, श्रवण कुमार झा, राज कृष्ण राज, सुनील मोहन ठाकुर, डा. संतोष कुमार झा, अनिमेष कुमार झा, मनोज कुमार झा, कौशल कुमार राय, राजेन्द्र कुमार, बटोही कुमार, राजीव कंठ, विश्वनाथ झा, मिथिला महिला समिति की अध्यक्ष आभा झा, अलका झा, इन्द्रा झा, रश्मि रेखा, सागरी पाठक, किरण मिश्रा, रेखा झा, अंजली, जयंती पाठक, कुमोद मिश्रा, शीला झा, भारती झा, निशा झा, कुमकुम मिश्रा, अंकिता झा, गायत्री चंद्र झा, सुनैना ठाकुर, इन्द्रा मिश्रा, मंजू मिश्रा, पिंकी, मीरा देवी, अमरजीत चौधरी आदि कई लोग उपस्थित थे।