• Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Dhanbad
  • 200 गांवों की 3 लाख आबादी को मिलेगा सप्लाई पानी:अरुप

200 गांवों की 3 लाख आबादी को मिलेगा सप्लाई पानी:अरुप

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
निरसाकी धरती पर 200 गांवों को बहुत जल्द पाइपलाइन के माध्यम से जलापूर्ति करवाने का निरसा विधायक अरुप चटर्जी का बहुप्रतीक्षित निरसा-गोविंदपुर मेगा जलापूर्ति योजना धरातल पर उतरने जा रही है। उक्त योजना का शिलान्यास शनिवार को होगा। इस बाबत निरसा विधायक ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि चार वर्षों का प्रयास रंग लाई। विधायक अरुप चटर्जी ने बताया कि तत्कालीन मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के कार्यकाल में मैंने विधानसभा में निरसा-गोविंदपुर मेगा जलापूर्ति योजना का प्रस्ताव दिया था। प्रस्ताव के कुछ दिन बाद ही उक्त योजना के लिए प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई थी। योजना का डीपीआर भी तैयार हो चुका था। कार्य को दो पार्ट में बांटा गया था। इसमें एक पार्ट के लिए कई संवेदकों ने निविदा भी डाली थी। परंतु हेमंत सरकार के कार्यकाल समाप्त होने के बाद प्रदेश में भाजपा की सरकार बनी। जिसने उक्त योजना पर विराम लगा दी थी। मैंने कई बार विधानसभा में उक्त योजना को लेकर सवाल उठाया। इसके बाद सरकार द्वारा उक्त योजना के लिए पर्याप्त राशि नहीं होने का हवाला देकर योजना को केंद्र के पास भेज दिया। विधायक अरुप चटर्जी ने बताया कि निरसा-गोविंदपुर नॉर्थ मेगा जलापूर्ति योजना से दोनों प्रखंड के 200 गांवों के करीब तीन लाख आबादी लाभान्वित होंगे। अब इन्हें सप्लाई पानी मिलने लगेगा।इसके लिए 15 एकड़ भूमि पर 4.33 करोड़ की लागत से वाटर ट्रीटमेंट प्लांट का निर्माण कार्य शनिवार से शुरू होगा। भाजपा उनके मुखिया कर रहे थे विरोध विधायक अरुप चटर्जी ने बताया कि उक्त योजना को लेकर उपायुक्त के साथ हुई बैठक में धनबाद सांसद के प्रतिनिधि निरसा क्षेत्र के भाजपा समर्थित मुखिया उक्त योजना का विरोध कर रहे थे। उक्त योजना के लिए राशि का अभाव होने के कारण प्रधानमंत्री खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट जो मुखियाओ को मिला। उक्त राशि में से 60 प्रतिशत मुखियाओं को पेयजल पर खर्च करनी थी।

अरुप चटर्जी।

खबरें और भी हैं...