पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • 15 दिन में पेट्रोल

15 दिन में पेट्रोल

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
किराया घटाने पर विचार करेंगे

अभीतक किसी यात्री ने इस मामले की शिकायत नहीं किया है। यदि यात्री इस संबंध में कोई लिखित शिकायत करते है, तो हम उपायुक्त के निर्देश पर किराया निर्धारण समिति की बैठक बुलाएंगे। जिसमें सर्वसम्मति से किराया घटाने पर विचार किया जाएगा। अभिषेकश्रीवास्तव, एसडीओ धनबाद

घाटे में चालक : ऑटो संघ

अभीहम किराया घटाने के स्थिति में नहीं हैं। यदि आने वाले दिनों में डीजल के दाम में कुछ और कमी होती है, तो हम इस पर विचार करेंगे। फिलहाल डीजल का दाम जितना कम हुआ है, उस पर किराए में कमी कर पाना मुश्किल है। अगर अभी किराया कम किया गया, तो मालिकों को घाटा ही होगा।

छोटनसिंह, महासचिव, धनबाद जिला ट्रैकर, मैजिक ऑटो एसोसिएशन

क्या कहते हैं जिम्मेदार

स्कूल बस का भी घटे किराया

ऐसे समझें कमाई का गणित

डीजल और पेट्रोल के दाम बढ़ने से पिछले दो सत्र में स्कूल वैन का किराया में 400 रुपए और बस का किराया 200-400 रुपए प्रति यात्री बढ़ा है। अभिभावकों का कहना है कि अब पेट्रोल-डीजल सस्ता होने से किराया घटना चाहिए।





सत्र 2013- 14 में स्कूल वैन की न्यूनतम किराया 500 रुपए से बढ़ा कर 700 रुपए कर दिया गया। वहीं सत्र 2014- 16 में स्कूल का न्यूनतम किराया को बढ़ा कर 700 रुपए से बढ़ा कर 900 रुपए कर दिया गया। स्कूल बस की भी न्यूनतम किराया को पिछले दो सत्र में बढ़ा कर 400 रुपए से 700 से 800 रुपए कर दिया गया है। ऐसे में पिछले कुछ माह में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में आई कमी के बाद अभिभावक संघ और आम अभिभावक भी किराया में कमी करने की मांग कर रहे है। बता दे कि शहर के अधिकांश स्कूलों में चलने वाले बसे और वैन निजी है। ऐसे में इन पर स्कूलों का नियंत्रण नहीं होता है।

एक डीजल ऑटो दिनभर में औसतन सात ट्रिप करता है। एक बार में 10 से 12 यात्री बैठते हैं। ऑटो का माइलेज 12 किलोमीटर प्रति लीटर। वर्तमान में डीजल का दाम 55.69 रुपए प्रति लीटर। अगर स्टेशन से गोविंदपुर का करीब 12 किलोमीटर का उदाहरण लें तो इस रूट पर प्रति सवारी 15 रुपए भाड़ा वसूला जाता है। 12 सवारी के हिसाब से एक ट्रिप की कमाई 180 रुपए होती है। यानी एक लीटर डीजल में 180 रुपए की कमाई। दिनभर के सात ट्रिप की कमाई हुई 1260 रुपए। इसमें डीजल का खर्च 387 रुपए। यानी एक ऑटो हर दिन 873 रुपए कमाता है। शहर में करीब 12000 ऑटो हैं, जिनकी