• Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Jamshedpur
  • आरयू की तर्ज पर बढ़ सकता है वोकेशनल फैकल्टी का मानदेय

आरयू की तर्ज पर बढ़ सकता है वोकेशनल फैकल्टी का मानदेय

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शिक्षा के साथ रोजगार के लिए खुलेगा अटल इंक्यूबेशन सेंटर

एजुकेशन रिपोर्टर | जमशेदपुर

देशकी यूनिवर्सिटी और उच्च शिक्षण संस्थानों में अब अटल इंक्यूबेशन सेंटर (एआईसी) खोले जाएंगे। इसमें छात्रों को मेंटरिंग के साथ-साथ स्टार्टअप बिजनेस का मौका मिलेगा। इससे देश की जरूरतों के मुताबिक नए-नए प्रयोग होंगे। हर क्षेत्र मैन्युफैक्चरिंग, परिवहन, ऊर्जा, स्वास्थ्य, शिक्षा, कृषि, जल आदि को तकनीक को जोड़ा जाएगा। इसके लिए नेशनल इंस्टीट्यूशन फॉर ट्रांसफॉर्मिंग इंडिया, नीति आयोग ने विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) को पत्र लिखा है।

यूजीसी के सचिव प्रो. जसपाल एस संधू ने यूनिवर्सिटी के वीसी को पत्र लिख कहा है- वे एआईसी स्थापित करने के लिए 31 जुलाई तक आवेदन कर सकते हैं। इसके तहत पांच साल के लिए यूजीसी यूनिवर्सिटी को 10 करोड़ रुपए देगी। अधिक जानकारी के लिए नीति आयोग से जानकारी ले सकते हैं।

केयू की वीसी डॉ. शुक्ला मोहंती ने कहा- यूनिवर्सिटी की ओर से कोल्हान के उद्योग और स्थानीय रोजगार के अवसर को देखकर सेंटर खोला जाएगा। इसके लिए स्थानीय बाहर के एक्सपर्ट की भी ओपिनियन ली जाएगी।

मालूम हो कि केयू प्रशासन ने सभी अनुबंधित शिक्षाकर्मियों के ईपीएफ मद में राशि जमा करने का फैसला पहले ही लिया था। ईपीएफ मद की राशि मानदेय से ही काटी जाएगी। इसी को ध्यान में रखते हुए मानदेय में वृद्धि पर विचार-विमर्श चल रहा है। पहले अनुबंधित कर्मचारियों का पीएफ जमा नहीं होता था। इसे लेकर शिक्षाकर्मियों में नाराजगी थी।

खबरें और भी हैं...