पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

351 महिलाओं ने निकाली भव्य कलश यात्रा

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मनीफीटस्थित श्रीतारकेश्वर मंदिर में सोमवार को तीन दिवसीय प्राण-प्रतिष्ठा समारोह की शुरुआत हुई। पहले दिन मंदिर परिसर से 351 महिलाओं ने कलश यात्रा निकाली। यात्रा विभिन्न मार्ग से होते हुए दोमुहानी घाट पहुंची। यहां से जल लेकर यात्रा वापस मंदिर परिसर पहुंचकर समाप्त हुई।

मंडप में वैदिक मंत्रोच्चार के बीच कलश स्थापित की गई। इस दौरान माहौल भक्तिमय हो गया। इसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालु शामिल हुए। वे जयकारा भी लगाया। मौके पर मंदिर समिति के सचिव बलराम रजक ने बताया कि मंदिर में शिवलिंग की प्राण-प्रतिष्ठा की गई। आठ फरवरी को पूर्णाहुति हवन प्रसाद वितरण होगा। अनुष्ठान को सफल बनाने में अध्यक्ष रवींद्र सिंह, नीरज दुबे समेत मंदिर समिति के सदस्यों ने योगदान दिया।

मनीफीट स्थित श्रीतारकेश्वर मंदिर में तीन दिवसीय प्राण-प्रतिष्ठा के दौरान निकली कलश यात्रा में शामिल महिलाएं।

साकची शिव मंदिर से श्याम बाबा की आज निकलेगी शोभायात्रा

साकचीशिव मंदिर प्रांगण में श्री शिव मंदिर समिति श्री श्याम परिवार टाटानगर के संयुक्त तत्वावधान में दो दिवसीय 28वें श्री श्याम महोत्सव की शुरुआत मंगलवार को होगी। इसका समापन भंडारे के साथ बुधवार को होगा। मंगलवार की सुबह 11 बजे श्याम ध्वजा पूजन के साथ अनुष्ठान शुरू होगा। पूजा में सात यजमान पांच पंडित शामिल होंगे। दोपहर दो बजे निशान यात्रा निकाली जाएगी। वहीं, आठ फरवरी को रात्रि 8.30 बजे बाबा की अखंड ज्योत प्रज्ज्वलित की जाएगी। नृत्य नाटिका के माध्यम से श्याम प्रभु के जीवन चरित्र को प्रस्तुत किया जाएगा।

कोलकाताके भजन गायक देंगे प्रस्तुति : संध्याछह बजे श्री श्याम दरबार का अलौकिक शृंगार होगा, जिसे कोलकाता के कारीगरों द्वारा सजाया जाएगा। वहीं, रात्रि 8.30 बजे अखंड ज्योत प्रज्ज्वलित की जाएगी। रात्रि नौ बजे से भजन का कार्यक्रम होगा, जिसमें कोलकाता के सुनील शर्मा प्रिया प्रस्तुति देंगे। वहीं, आठ फरवरी को भक्तों के लिए भंडारा का आयोजन किया जाएगा।

जमशेदपुर| साकचीशीतला मंदिर में आयोजित नौ दिवसीय रुद्र चंडी महायज्ञ का सोमवार को पूर्णाहुति भंडारे के साथ समापन हो गया। अंतिम दिन मां काली भगवान काशी विश्वनाथ स्फोटिकेश्वर का आशीर्वाद लेने मंत्री सरयू राय पहुंचे। इस दौरान हजारों श्रद्धालुओं ने पूरी, सब्जी बुंदिया ग्रहण किया। सारे अनुष्ठान संजय उपाध्याय भागीरथी आचार्य की देखरेख में संपन्न हुए। वहीं, अनुष्ठान को सफल बनाने में धन्जी पांडेय, राकेश उपाध्याय, विवेक पांडेय, अशोक पांडेय, अभय पांडेय, गोलू विनोद पांडेय, पप्पू पाठक, विजय यादव, दिनेश पाठक, राकेश पाठक, अजय तिवारी सहित अन्य सदस्यों ने योगदान दिया।

खबरें और भी हैं...