बीआईटी मेसरा की नि

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
आम तौर पर आईआईटी, एनआईटी जैसे तकनीकी संस्थानों के कैंपस में सभी कंपनियां जाती हैं। छात्रों का इंटरव्यू करती हैं। फिर उनमें से बेहतर दिमाग का चयन करती है। टाटा स्टील ने इस प्रतियोगिता के जरिए देश के बेहतरीन दिमाग को अपने पास लाने में कामयाबी पाई है। यह स्पर्धा देशभर के प्रतिष्ठित तकनीकी संस्थानों में होती है। फिर उनमें से छांट कर मेधावी विद्यार्थियों को इंटर्नशिप के लिए टाटा स्टील के आरएंडडी विभाग में लाया जाता है, जहां वे अपने प्रोजेक्ट पर काम करते हैं। इतनी अवधि में कंपनी को सर्वश्रेष्ठ को खोजन
बीआईटी मेसरा की निहारिका सिंह और कायनात फरहीन की जोड़ी कोल फाइंस से 19 फीसदी डस्ट घटाने का फार्मूला बताकर शुक्रवार को माइंस ओवर मैटर के सीजन फोर का ग्रैंड फिनाले जीत ली। लौह अयस्क में नमी को कम करने वाला रसायन खोजने वाले आईआईटी मद्रास के वेंकट रवि तेजा उपविजेता रहे। स्टील को अल्युमीनियम या फाइबर से जोड़ने के लिए एडिसिप की क्षमता बढ़ाने वाले रसायन खोजने वाले बीआईटी मेसरा के संकल्प और किसलय की जोड़ी तीसरे स्थान पर रही। स्टील उद्योग के लिए बेहतर प्रोजेक्ट बनाने वाले विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया गया। उन्हें नकद पुरस्कार के साथ टाटा स्टील में नौकरी का प्रस्ताव भी मिला।

टाटा स्टील की ओर से आयोजित माइंस ओवर मैटर के सीजन फोर में देशभर के आईआईटी, एनआईटी समेत प्रमुख तकनीकी संस्थानों के छात्रों ने हिस्सा लिया। देशभर के तकनीकी संस्थाओं के विद्यार्थियों के बीच तीन माह से यह प्रतियोगिता चल रही थी। इसमें 40 टेक्नीकल इंस्टीट्यूट से 350 स्टूडेंट्स शामिल हुए। सबने स्टील उद्योग की बेहतरी के लिए अपने आइडिया दिए। इसमें 12 टीम के प्रोजेक्ट को बेहतर आंका गया। फिर दो माह की इंटर्नशिप हुई। इसमें 23 विद्यार्थियों ने टाटा स्टील के रिसर्च एंड डेवलपमेंट विभाग (आरएंडडी) के साथ मिलकर अपने प्रोजेक्ट पर काम किया। शुक्रवार को सेंटर फॉर एक्सीलेंस में सभी टीमों ने अपने प्रोजेक्ट प्रस्तुत किए। अवॉर्ड के साथ सबको प्री-प्लेसमेंट ऑफर मिला। सभी विजेता जुलाई 2018 में टाटा स्टील ज्वाइन करेंगे। ये थे निर्णायक मंडली में : टाटा स्टील के एमडी टीवी नरेंद्रन के तकनीकी सलाहकार डॉ टी वेणुगोपाल, आरएंडडी विभाग के चीफ डॉ. संजय चंद्रा और टीएससीआर चीफ अनूप कुमार त्रिवेदी।

कोल फाइंस से 19 फीसदी डस्ट घटाने का फार्मूला बताकर बीआईटी मेसरा बना विजेता

बीआईटी मेसरा की निहारिका सिंह और कायनात फरहीन को पुरस्कार देते टाटा स्टील के अधिकारी उपविजेता रहे आईआईटी मद्रास के वेंकट रवि तेजा भी मंच पर।

Grand Finaley

खबरें और भी हैं...