इस हॉस्पिटल में हुआ था प्रियंका चोपड़ा का जन्म, नानी के घर गुजरा बचपन

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जमशेदपुर(झारखंड). बॉलीवुड के साथ हॉलीवुड में अपनी अदाकारी के जलवे बिखेर रहीं एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा आज अपना 35वां बर्थडे मना रही हैं। प्रियंका का जन्म 18 जुलाई 1982 को जमशेदपुर शहर के टाटा मेन हॉस्पिटल में हुआ था।  यहां उनका घर और ननिहाल भी है। कांग्रेस विधायक रहीं नानी...
 
 
- जमशेदपुर में जन्मीं एक्ट्रेस प्रियंका के पिता अशोक चोपड़ा भारतीय सेना में डॉक्टर थे। इनके पिता अंबाला के रहने वाले थे।
- नौकरी में ट्रांसफर की वजह से चोपड़ा फैमिली लद्दाख, लखनऊ, बरेली और पुणे जैसे शहरों में रही।  
- इस वजह से प्रियंका के बचपन का काफी हिस्सा लेह, बरेली जैसे शहरों में गुजरा। 
- प्रियंका का भाई सिद्धार्थ चोपड़ा उनसे सात साल छोटा है। एक्ट्रेस परिणति चोपड़ा और मीरा चोपड़ा इनकी कजिन हैं। 
- प्रियंका की शुरुआती शिक्षा 'ला मार्टीनियेर गर्ल्स स्कूल' से हुई थी। 
 
 
नानी रही बिहार में विधायक
- प्रियंका की नानी मधु ज्योत्सना अखौरी के पति डॉ एमके अखौरी जमशेदपुर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष थे।
-  उनका परिवार यहां आदित्यपुर एम टाइप दुर्गापूजा मैदान के पास रहता था।  
- मधु अखौरी ने पहली बार कांग्रेस के टिकट से वर्ष 1962 में जमशेदपुर सीट से चुनाव लड़ा था।
- उसके बाद 1967 में दोबारा जमशेदपुर पूर्व से लड़ी थीं, जिसमें वह विजयी रही थीं। इसमें उन्हें कुल 17083 मत मिले थे।
- वह ट्रेड यूनियन से भी जुड़ी हुई थीं, उन्हें जेम्को तार कंपनी ट्रेड यूनियन का अध्यक्ष भी चुना गया था। इसके माध्यम से उन्होंने मजदूर हित में कई काम किए थे। 
 
फिल्म की शूटिंग देखने पहुंची थीं नानी
- प्रियंका चोपड़ा की नानी मधु ज्योत्सना अखौरी को फिल्मों में भी काफी रुचि थी। वह मुंबई में रहते हुए प्रियंका के फिल्मों की शूटिंग देखने के लिए भी सेट पर पहुंचती थीं।
- मधु अखौरी का 2016 में मुंबई में निधन हो गया था। 

 
13 साल में यूएस चली गईं
- अपनी तेरह साल की उम्र में प्रियंका पढ़ने के लिए यूएस चली गईं। यहां वो अपनी चाची के घर पर रहीं।
- उन्होंने न्यूटन मैसाचुएट्स और सेडार रैपिड लोवा से पढ़ाई की। 
- स्कूलिंग के दौरान ही प्रियंका ने थियेटर और म्यूजिक के गुर सीखेने शुरू कर दिए थे। म्यूजिक में मिस चोपड़ा ने क्लासिकल, कोरल और डांस में कत्थक सीखा।
- उन्हें ग्लैमर वर्ल्ड के प्रति इतना लगाव था कि वे बचपन से ही हीरो-हीरोइन के फोटोज संभालकर रखती थीं।  
- इंडिया वापस आने के बाद वे बरेली के सैंट मरिया गोरट्टी कॉलेज में पढ़ने गईं।
खबरें और भी हैं...